बैक्टीरियल वेजाइनोसिस क्या है, जानें इसके लक्षण और कारण

what is Bacterial Vaginosis, its symptoms and causes

बैक्टीरियल वेजाइनोसिस महिलाओं में होने वाला एक बहुत ही सामान्य वेजाइनल इंफेक्शन है। हालांकि यह इंफेक्शन किसी भी उम्र की महिलाओं को हो सकता है लेकिन खासतौर पर यह उन महिलाओं को होता है जो प्रसव की उम्र में हैं। यह बहुत ही आम समस्या है। यह संक्रमण तब होता है जब वेजाइना में बैक्टीरिया का सामान्य संतुलन बिगड़ जाता हैं, जिसके परिणामस्वरूप पीएच का स्तर बढ़ जाता है और वेजाइना में अच्छे बैक्टीरिया की तुलना में हानिकारक बैक्टीरिया अधिक हो जाते हैं। इसके कारण आपको सफेद स्राव हो सकता है। आइए जानते हैं बैक्टीरियल वेजाइनोसिस और इसके लक्षण और कारण क्या हैं। [ये भी पढ़ें: टैम्पोन्स हाइजीन नियम जो हर महिला को पता होना चाहिए]

बैक्टीरियल वेजाइनोसिस के लक्षण: कुछ महिलाओं में बैक्टीरियल वेजाइनोसिस के लक्षण नहीं दिखते हैं या वो पहचान नहीं पाती है कि वह जो अनुभव कर रही हैं, बैक्टीरियल वेजाइनोसिस हैं। जबकि कई महिलाएं इसके लक्षण दिखने के बाद उनके खुद से जाने का इंतजार करती है और किसी तरह की स्वास्थ्य देखभाल, सलाह या उपचार नहीं करती हैं।

बैक्टीरियल वेजाइनोसिस के दौरान दिखने वाले लक्षणों में सफ़ेद रंग का पतला वेजाइनल डिसचार्ज हो सकता है। साथ ही स्ट्रॉन्ग और अप्रिय गंध भी होती है। इसके अलावा वेजाइना में या वेजाइना के आसपास खुजली, जलन और दर्द भी हो सकता है। [ये भी पढ़ें: अगर अनियमित पीरियड्स से परेशान हैं तो छोड़ दें इन आदतों को]

बैक्टीरियल वेजाइनोसिस के कारण: बैक्टीरियल वेजाइनोसिस स्वाभाविक रूप से होने वेजाइना में पाएं जाने वाले बैक्टीरिया फ्लोरा के असंतुलन के कारण होता है। यह महिला की योनि में पाया जाने वाला सामान्य बैक्टीरिया है। बैक्टीरियल वेजाइनोसिस इन अन्य कारणों से हो सकता है-

  • योनि को साफ करने के लिए पानी या मेडिकेटेड सोल्यूशन का इस्तेमाल करना
  • एंटीसेप्टिक तरल पदार्थों से स्नान करना
  • किसी नए व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाना
  • कई व्यक्तियों के साथ यौन संबंध बनाना
  • पर्फ्यूम्ड बबल बाथ, वेजाइनल डिओडेरेंट और कुछ सुगंधित साबुन का उपयोग करना
  • धूम्रपान करना
  • हार्स डिटर्जेंट से अंडरगार्मेंट्स को धोना

बैक्टीरियल वेजाइनोसिस से बचाव: सही रुप से वेजाइनल केयर जरुरी है। इसके अलावा योनि के बाहर के हिस्सा को गर्म पानी से ही साफ करें। हल्के साबुन का इस्तेमाल भी नुकसानदायक हो सकता है। योनि वाले भाग को स्वस्थ रखने के लिए कॉटन या कॉटन लाइन्ड पेंटी पहनें। जरुरत से अधिक साफ करने से बचें, इसके कारण योनि में सुरक्षात्मक बैक्टीरिया का संतुलन बिगड़ सकता है। सुरक्षित रुप से यौन संबंध बनाएं और सेक्स पार्टनर की संख्या सीमित करें। [ये भी पढ़ें: महिलाओं के लिए कौन से पोषक तत्व होते हैं महत्वपूर्ण]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "