वेजाइना को हानि पहुंचने से बचाने के लिए क्या ना करें

What are the things You Should Never Do to Your Vagina

महिलाओं का रिप्रोडक्टिव सिस्टम बहुत ही नाजुक होता है। ऐसे में उन्हें इसका खास ध्यान रखना आवश्यक होता है ताकि कोई नुकसान ना पहुंचें। रिप्रोडक्टिव सिस्टम बहुत ही संवेदनशील होती है तो उसके आस-पास किसी भी चीज को इस्तेमाल करने से पहले आपको ध्यान रखने की जरूरत है वरना इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ सकती है। महिलाएं कई ऐसी चीजें करती हैं जिसकी वजह से उनके योनी में बैक्टीरिया और कीटाणु जमा हो जाते हैं और साथ ही उनके स्वास्थ्य को हानि पहुंचाते हैं। महिलाएं अपनी दैनिक दिनचर्या में कुछ ऐसी चीजें करती हैं जिसकी वजह से उनके योनि को हानि पहुंच सकती है। तो इसलिए आपको उन चीजों को करने से बचना चाहिए जिनकी वजह से आपके वेजाइना को कोई नुकसान ना पहुंचें। तो आइए जानते हैं वेजाइना को हानि पहुंचने से बचाने के लिए क्या नहीं करना चाहिए। [ये भी पढ़ें: प्राकृतिक तरीकों से ब्रेस्ट को सही शेप में कैसे लाएं]

वेजाइनल डाउचिंग बंद करें:
वेजाइनल डाउचिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें पानी में सिरका मिलाकर वेजाइना को साफ किया जाता है। डाउच जो होता है उसमें एंटीसेप्टिक और खूशबू होती है जो वेजाइना को तरोताजा बनाने में मदद करता है। लेकिन इसके अलावा ये गुड बैक्टीरिया को नष्ट करता है जिसकी वजह से महिलाओं को पेल्विक इंफ्लेमेट्री डीजिज होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए इसके इस्तेमाल से आपको बचना चाहिए।

अनसैनिटरी फॉरेन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल ना करें:
अनसैनिटरी फॉरेन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने की वजह से क्रोनिकल वेजाइनल से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। सेक्स टॉय, टैंम्पोंस, वेजाइनल कप्स और कंडोम के इस्तेमाल से बचें क्योंकि ये आपके वेजाइना के लिए घातक होता है। इसको इस्तेमाल करने की वजह से आपको वेजाइना में जलन और खुजली की समस्या हो सकती है। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स के दिनों को बाकी दिनों की तरह खुशनुमा कैसे बनाएं]

एक पैड ज्यादा समय तक इस्तेमाल ना करें:
एक पैड को अगर ज्यादा समय तक इस्तेमाल करेंगे तो इसकी वजह से आपके वेजाइना में बेक्टीरिया और कीटाणु जमा हो जाएंगें तो आपके वेजाइना के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। इसके अलावा इसकी वजह से कई बार योनि में खुजली और दर्द की समस्या भी हो जाती है।

वेजाइनल क्रीम का इस्तेमाल ना करें:
बेजाइनल क्रीम में केमिकल होता है जो आपकी योनि को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा आपको यीस्ट इंफेक्शन की समस्या भी हो सकती है। तो ऐसे में क्रीम के इस्तेमाल के बजाय प्राकृतिक उपचार करना आपके लिए बेहतर विकल्प होता है। [ये भी पढ़ें: महिलाओं के स्वास्थ्य के जुड़े मिथक]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "