ब्रेस्टफीडिंग के दौरान अदरक की चाय का सेवन क्यों बेहतर है

Read in English
What are the Health benefits of ginger tea during Breastfeeding

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान बहुत सी बातों का ध्यान रखना आवश्यक होता है क्योंकि इसका सीधा प्रभाव आपके बच्चे पर पड़ेगा। अगर आप कुछ भी अस्वस्थ खाते हैं तो उससे आपके बच्चे का स्वास्थ्य खराब हो सकता है। बच्चे संवेदनशील होते हैं और उन्हें जल्दी इंफेक्शन होने का खतरा होता है, तो ऐसे में आपको उनका खास ध्यान रखने की जरूरत है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान आपको पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना आवश्यक होता है ताकि उसके माध्यम से आपके बच्चे को भी पोषक तत्व मिलें और आपका बच्चा स्वस्थ रहे। ऐसे में अदरक वाली चाय ब्रेस्टफीडिंग के दौरान बच्चे और मां दोनों के स्वास्थ्य के लिए बेहतर होता है। अदरक वाली चाय ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ब्रेस्ट मिल्क के उत्पादन को भी बढ़ाता है। आइए जानते हैं ब्रेस्टफीडिंग के दौरान अदरक की चाय का सेवन करना क्यों बेहतर होता है। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान महिलाओं को किन बातों का ख्याल रखना चाहिए]

मिचली की समस्या को कम करता है:
स्तनपान के दौरान महिलाओं को मिचली की समस्या होती है। एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण अदरक और अदरक की चाय मिचली की समस्या से लड़ने में मदद करता है और मॉर्निंग सिकनेस या उल्टी के लक्षणों को भी रोकने में मदद करता है। सुबह में अदरक वाली चाय पीने से मिचली की समस्या को रोका जा सकता है।

डाइजेशन को बेहतर करता है:
स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को पेट से जुड़ी समस्या हो जाती है जैसे- कब्ज, दस्त, ब्लोटिंग और गैस। इसके अलावा उन्हें खाना पाचने में भी परेशानी होने लगती है। अदरक वाली चाय में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो बैक्टीरिया और कीटाणु से लड़ने में मदद करते हैं और इंफेक्शन को कम करते हैं। इस प्रकार अदरक वाली चाय ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं के लिए बेहतर होता है। [ये भी पढ़ें: वेजाइना को स्वस्थ रखने के लिए खाद्य पदार्थ]

इंफ्लेमेशन के लिए:
अदरक और अदरक वाली चाय में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो स्तनपान करवाने वाली महिलाओं की हड्डियों और मांसपेशियों में होने वाले दर्द को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा ये जोड़ों के दर्द से राहत दिलाता है।

ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर करता है:
अदरक वाली चाय में मिनरल्स, विटामिन और अमिनो एसिड होता है जो स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के बल्ड सर्कुलेशन को बेहतर करता है। इसके अलावा ये हृदय रोग और स्ट्रोक के खतरे को भी कम करता है।

तनाव कम करता है:
अदरक वाली चाय में सूदिंग और कामिंग इफेक्ट होता है जो स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के तनाव को कम करता है। इसके अलावा इसमें अरोमा और एंटीऑक्सीडेंट होता है जो स्ट्रेस रीलिवर की तरह काम करता है। [ये भी पढ़ें: अंडरवियर ना पहनकर सोने से होते हैं हैरान करने वाले फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "