वेजाइनल बंप्स के प्रकार जिनके बारे में महिलाओं को जानना चाहिए

Read in English
Types of vaginal bumps every women should know

महिलाओं को वेजाइना से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है और इसके पीछे का कारण अधिकतर बार जानकारी की कमी होती है। इसलिए बेहतर है कि आप हर चीज के बारे में जागरुक रहें। वेजाइनल बंप्स भी इन समस्याओं में से एक है। आपकी वेजाइना की ओपनिंग या वेजाइना के आसपास कई तरह के बंप्स हो सकते हैं। अगर आपको इनके बारे में जानकारी होगी तो आप सही समय पर सावधान हो सकती है। आइए जानते हैं कि वेजाइनल बंप्स कितने प्रकार के हो सकते हैं। [ये भी पढ़ें: अंडरवियर ना पहनकर सोने से होते हैं हैरान करने वाले फायदे]

वेजाइना ओपनिंग के पास होने वाला बंप
इसे बार्थोलिन सिस्ट भी कहा जाता है। यह तब होता है जब आपकी वेजाइनल ओपनिंग के दोनों तरफ मौजूद ग्लैंड्स बंद हो जाते हैं जिसके कारण इन ग्लैंड्स से निकलने वाला द्रव्य वापस ग्लैंड्स में जाने लगता है। यह बंप आकार में छोटा होता है और इसे छूने पर दर्द होता है। हालांकि इसके उपचार में कोई परेशानी नहीं होती।

ब्लिसटर्स जिनमें पस होता है
आमतौर पर वेजानल एरिया में होने वाले ब्लिसटर्स के पीछे का कारण आपका ग्रूमिंग मेथड होता है। आप किस तरीके से प्यूबिक एरिया के हेयर को साफ करते हैं उसके कारण भी ब्लिस्टर्स हो सकते हैं। रेज़र के इस्तेमाल के कारण भी ब्लिसटर्स हो सकते हैं। अदिक समय तक इन्हें अनदेखा करने के कारण इनमें पस बन जाता है। इन्हें खुद से फोड़ने की कोशिश ना करें। ऐसा करने से समस्या बढ़ सकती है। वार्म कंप्रेस करें और ढ़ीले कपड़े पहने। [ये भी पढ़ें: क्या होता है जब आप अधिक देर तक टैम्पॉन्स लगाकर रखती हैं]

जेनाइटल हर्पीस
जेनाइटल हर्पीस एक इंफेक्शन है जो कि हर्पीस सिंप्लेक्स वायरस के कारण होता है। यह वेजाइनल, ओरल या अनल सेक्स के दौरान फैल सकता है। इसके दौरान आपके ग्लैंड्स में सूजन हो सकती है और खुजली भी। इसके दौरान डॉक्टर से संपर्क करें।

वेजाइनल स्किन टैग्स
वेजाइनल एरिया में अगर आप त्वचा में उभरा पन नोटिस करते हैं तो ये वेजाइनल स्किन टैग्स हो सकते हैं। स्किन टैग्स आकार में छोटे होते हैं और ये आपको अधिक हानि नहीं पहुंचाते हैं। इनके कारण आपको कोई असहजता नहीं होती है। हालांकि अगर कोई चीज इनसे रगड़ जाती है तो इनसे इरिटेशन हो सकती है।

वेरिकोसाइटिस
वेरिकोसाइटिस वेजाइना के आसपास के हिस्से में हो सकते हैं। महिलाओं गर्भावस्था के बाद या उम्र बढ़ने के साथ इस तरह के बंप्स से वाकिफ हो सकती है। ये दिखने में उभरे हुए और नीले रंग के होते हैं। हो सकता है कि आपको इनमें दर्द ना हो लेकिन ये कभी-कभी वेजाइनल ईचिंग का कारण बन जाते हैं। अधिक परेशानी होने पर आप डॉक्टर से संपर्क करें। [ये भी पढ़ें: धूम्रपान करने से पड़ते हैं महिलाओं के स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "