मेंस्ट्रुुअल साइकल आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या बताती है

Things Your Period Can Tell You About Your Health

पीरियड्स हर महीने आता है और चला जाता है। लेकिन इसकी वजह से महिलाओं को कई अन्य समस्याओं सामना करना पड़ता है जैसे- मेंस्ट्रुअल क्रैंम्प्स, मूड स्विंग्स, ब्लोटिंग और पिंपल्स। कई बार पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द असहनीय हो जाते हैं। हर महिला अलग-अलग तरह की चीजें अनुभव करती हैं। कुछ को कम ब्लिडिंग होता है तो कुछ को बहुत ज्यादा। कुछ को तो अनियमित पीरियड्स भी होता है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं होता है कि वो प्रेग्नेंट हैं। ये एक संकेत होता है कि आपको किसी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या है। तो इसलिए आपको अपने हॉर्मोन बदलाव पर ध्यान देने की जरूरत है। आपको इस बात पर भी ध्यान देने की जरूरत है कि आप पूरे दिन में कितने पैड्स या टैंम्पोन्स का इस्तेमाल कर रही हैं, अगर सामान्य समय से ज्यादा लग रहा है तो ये आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। आइए जानते हैं मेंस्ट्रुअल साइकल आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या बताती है। [ये भी पढ़ें:  पीरियड्स के दौरान टैम्पोन्स, पैड्स और मेंस्ट्रुअल कप में से किसका इस्तेमाल है बेहतर]

मेंस्ट्रुअल पेन:
पीरियड्स के दौरान होने वाला दर्द असनीय होता है। लगभग 70 प्रतिशत महिलाएं पीरियड्स के दौरान एब्डॉमिनल पेन, क्रैंम्प्स और ब्लोटिंग की समस्या से ग्रसित होती हैं। हम दर्द महसूस करते हैं क्योंकि हर महीने गर्भाशय की मांसपेशियों का संधि और रक्त को बाहर निकालने के लिए जारी रहता है और इस संकुचन के कारण दर्द होता है। लेकिन यदि आप ऐसे दर्द का सामना लगातार कर रहे हैं तो आपको स्त्री रोग विशेषज्ञ से संम्पर्क करने की जरूरत है। पीरिड्स के दौरान होने वाला दर्द एंडोमेट्रियोसिस, वेजाइनल स्कैरींग या फाइब्रॉएड्स के लक्षण हो सकते हैं।

पीरियड्स का रंग:
पीरियड्स के दौरान ब्लड का रंग अगर लाल होता है तो वो सामान्य है लेकिन यदि भूरा या काला रंग का होता है तो आपको सतर्क होने की जरूरत है। अगर आपके पीरियड्स का रंग स्ट्रॉबेरी जैम की तरह होता है तो ये संकेत है कि आपके शरीर में एस्ट्रोजेन का स्तर कम हो रहा है। ये वेजाइनल ड्राइनेस, थकान, लो लिबिडो और बाल झड़ने की समस्या होने की तरफ इशारा करता है। [ये भी पढ़ें: कई स्वास्थ्य समस्याओं की तरफ संकेत करते हैं पीरियड्स]

अनियमित पीरियड्स:
प्रेग्नेंसी के अलावा अगर आपका पीरियड्स अनियमित है तो आपको सचेत होने की जरूरत है। यह थायरॉयड की समस्या या हार्मोनल असंतुलन का संकेत हो सकता है जो आपके अंडाशय में अल्सर पैदा कर सकता है। कभी-कभी यह तनाव के कारण भी होता है। ऐसे मामलों में आपको अपने डॉक्टर से संपर्क की जरूरत है।

रक्त का तेज बहाव:
पीरियड्स के दौरान रक्त का तेज बहाव सामान्य होता है लेकिन यदि आपको तीसरे या चौथे दिन भी ज्यादा बहाव हो रहा है और आप 3 से 4 घंटे में पैड बदल रहे हैं तो ये आपके संकेत है कि आपको डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है। ये संक्रमण, हीमोफिलिया, बल्ड शीनर्स, हार्मोनल असंतुलन, फाइब्रॉएड्स या फिर ब्रेन ट्यूमर होने की तरफ इशारा करता है। [ये भी पढ़ें: वेजाइना को स्वस्थ रखने के लिए खाद्य पदार्थ]

 

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "