हर रोज की इन आदतों के कारण ढ़ीले हो सकते हैं आपके स्तन

Read in English
these daily habits can sag your breasts

मां बनने के कारण, शिशु को स्तनपान कराने और उम्र के बढ़ने के साथ-साथ आपके शरीर की त्वचा में कोलाजेन कम होने लगता है जिससे त्वचा की इलास्टिसिटी भी कम होती है। इन कारणों से आपके स्तन शिथिल यानि ढ़ीले हो सकते हैं। यह एक सामान्य प्रक्रिया है। हालांकि इसके कारण आपकी शरीर की खूबसूरती प्रभावित होती है। ये कारण आपके नियंत्रण में नहीं होते हैं लेकिन आप भी कहीं ना कहीं इस समस्या के लिए जिम्मेदार है। आपकी हर रोज की कुछ आदतें हैं जिनके कारण आपके स्तन शिथिल हो सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में। [ये भी पढ़ें: इन तरीकों से जानें कि आपका पीरियड क्रैम्प सामान्य है या नहीं]

धूम्रपान: सिगरेट और धूम्रपान के कारण आपको कई तरह की स्वास्थ्य परेशानियां हो सकती हैं और आपकी इस आदत का शिकार आपके स्तनों पर भी पड़ता है। धूम्रपान करने से आपकी त्वचा की कोशिकाएं कमजोर होती है साथ ही यह त्वचा की उम्र जल्दी बढ़ाता है। सिगरेट के सेवन से आपकी त्वचा की सतह तक रक्त की सप्लाई नहीं हो पाती है जिससे स्तन की त्वता शिथिल यानि ढ़ीली होने लगती है।

सनस्क्रीन ना लगाना:
these daily habits can sag your breastsसनस्क्रीन के बिना आपकी जिस तरह आपके चेहरे की त्वचा यूवी किरणों के संपर्क में आती है और चेहरे पर झुर्रियां दिखने लगती है। ऐसे ही सूरज की किरणों के संपर्क में आने से स्तन की त्वचा में भी कोलाजेन खिंचने लगता है और स्तन की त्वचा ढ़ीली हो जाती है। [ये भी पढ़ें: वेजाइनल इचिंग के क्या कारण हो सकते हैं]

अनियमित डाइटिंग, वजन बढ़ाना और घटाना:
महिलाओं के लिए डाइटिंग करना काफी सामन्य है। जब देखो महिलाएं डाइटिंग शुरु कर देती हैं। लेकिन क्या आप जानती है कि ऐसा करने से आपकी सेहत बेहतर हो ना हो लेकिन सुंदरता खराब हो सकती है। अनियमित डाइटिंग करने और वजन घटाने, बढ़ाने के कारण आपके स्तनों की त्वचा प्रभावित होती है।

हाई इंपेक्ट वर्कआउट:
these daily habits can sag your breastsहालांकि इस बात पर अभी भी रिसर्च की जा रही हैं लेकिन एक्सपर्ट का कहना है कि हाई इंपेक्ट वर्कआउट जैसे रनिंग के कारण आपके शरीर के साथ स्तन भी मूव करते हैं और अधिक मूवमेंट के कारण स्तनों का कोलेजन टूटने लगता है जिससे स्तन शिथिल हो सकते हैं। [ये भी पढ़ें: बेडरुम में रखें ये पौधे और पाएं सुकून भरी नींद]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "