पैड के कारण होने वाले रैशेज से कैसे निजात पाएं

Read in English
How to get rid of pad rashes

ज्यादातर महिलाओं को पीरियड्स के कारण बहुत असहजता महसूस होती है क्योंकि इस दौरान लगभग एक सप्ताह तक महिलाओं को लगातार पेट में दर्द की समस्या रहती है। इसके अलावा बार-बार पैड और टैंम्पोन्स को बदलने में भी परेशानी महसूस होती है। इन सब के अलावा पैड के कारण होने वाली रैशेज से भी महिलाओं को असहजता होती है। आज के समय में बहुत प्रकार के पैड होते हैं जैसे- सेंटेड पैड से लेकर मैक्सी पैड। पीरियड्स के दौरान पैड योनि द्वारा निकलने वाले बल्ड को अवशोषित कर लेता है। लेकिन यदि आपकी त्वचा संवेदनशील है तो इन पैड्स में होने वाले केमिकल आपकी खुजली की समस्या को बढ़ा सकता है। पूरे दिन पैड्स को लगाए रखने के कारण आपके जांघ और वेजाइना के आसपास के हिस्सों में रैशेज हो जाते हैं। ये रैशेज सूजन को बढ़ाते हैं और दर्द का कारण भी बनते हैं। आइए जानते हैं पैड के कारण होने वाले रैशेज से कैसे निजात पाएं पाया जा सकता है। [ये भी पढ़ें: ब्रेस्ट के विभिन्न प्रकार जिनके बारे में शायद ही आप जानती होंगी]

कुछ समय पर पैड बदलें:
पैड को कुछ घंटों के अंतराल पर बदलते रहना चाहिए क्योंकि उनमें बैक्टीरिया और कीटाणु होते हैं जो आपको असहज महसूस करवाते हैं और साथ ही रैशेज का कारण भी बनते हैं। पैड को 4 से 5 घंटें में बदलना चाहिए, इससे आपकी रैशेज की समस्या कम हो जाएगी।

हाईजिन बनाएं रखें:
वेजाइना के आसपास के हिस्से को साफ कर के रखें ताकि बैक्टीरिया और कीटाणु नष्ट हो जाएं और इंफेक्शन और रैशेज की समस्या कम हो जाए। साबुन या फेमिनिन वॉश का इस्तेमाल बंद करना आपके रैशेज को बढ़ा सकता है। गर्म पानी से भी आप वेजाइना या उसके आसपास के हिस्से को साफ कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान होने वाली वेजाइनल ईचिंग के कारण]

पाउडर लगाएं:
पाउडर का इस्तेमाल करने से वेजाइना के आसपास का हिस्सा सूखा रहता है। वेजाइनल एरिया और जांघों पर पाउडर जरूर लगाएं। टैल्कम पाउडर के जगह एंटीसेप्टिक पाउडर का इस्तेमाल करना बेहतर विकल्प होता है क्योंकि ये बैक्टीरिया और कीटाणु को नष्ट करने में मदद करता है।

स्किनि जीन्स ना पहनें और कॉटन पैंटी पहनें:
स्किनि जीन्स पहनने के बजाय ढीले पैंट या फिर कॉटन अंडरवियर पहनें। ये आपके जेनाइटल एरिया में होने वाले पसीने को कम करता है जिससे आपके रैशेज की समस्या कम होती है और साथ ही दर्द से भी राहत मिलता है।

अच्छे सैनेटरी पैड का इस्तेमाल करें:
सही सैनेटरी पैड नहीं होने की वजह से रैशेज की समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसलिए लाइट और सॉफ्ट पैड का इस्तेमाल करें। इससे आपके रैशेज कम हो जाएंगे और दर्द भी महसूस नहीं होगा। [ये भी पढ़ें: फेमिनिन वॉश का इस्तेमाल करना उचित है या नहीं]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "