महिलाओं के लिए कितना वेजाइनल डिसचार्ज सामान्य होता है

how much vaginal discharge is normal

वेजाइनल डिसचार्ज महिलाओं को होने वाली एक सामान्य समस्या है। यह शरीर का विषाक्त पदार्थ बाहर निकालने का तरीका होता है जिसमें वेजाइना अपने आप साफ होती है। लेकिन वेजाइनल डिसचार्ज एक सीमा तक हो तो यह सामान्य होता है अगर यह जरुरत से ज्यादा होने लगे तो स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए इशारा करता है। महिलाओं के रुटीन में आने वाले बदलावों के कारण डिसचार्ज बढ़ जाता है। अत्यधिक एक्सरसाइज करना, गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन और भावनात्मक तनाव जैसे कई कारणों की वजह से वेजाइनल डिसचार्ज ज्यादा होने लगता है। तो आइए आपको बताते हैं कि कितना वेजाइनल डिसचार्ज सामान्य होता है। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान टैम्पोन्स, पैड्स और मेंस्ट्रुअल कप में से किसका इस्तेमाल है बेहतर]

वेजाइनल डिसचार्ज कई तरह के और कई रंग का होता है। इन रंगों और प्रकारों की मदद से पता चलता है कि वेजाइनल इंफेक्शन या यीस्ट इंफेक्शन हो गया है। इसलिए महिलाओं को वेजाइनल डिसचार्ज के इन संकेतों पर ध्यान देना चाहिए।

किस तरह का वेजाइनल डिसचार्ज सामान्य होता है:
एक सीमा तक वेजाइनल डिसचार्ज महिलाओं के शरीर के लिए सामान्य होता है। यह वेजाइना के पीएच लेवल और उसके पास अच्छे बैक्टीरिया की ग्रोथ में मदद करता है। लेकिन अगर अचानक से अत्यधिक मात्रा में डिसचार्ज होने लगे तो किसी समस्या के संकेत हो सकते हैं। यह आपकी मासिक साइकल के शुरु होने के संकेत, थोड़े समय पहले डिलिवरी या हार्मोनल बदलाव के संकेत हो सते हैं। इसके अलावा ज्यादा डिसचार्ज होना कई तरह के इंफेक्शन का संकेत होते हैं। यीस्ट और बैक्टीरियल इंफेक्शन इनमें से आम हैं। इन इंफेक्शन की वजह से अचानक से वेजाइनल डिसचार्ज होना बढ़ जाता है। इसके साथ ही कई तरह के डिसचार्ज आपके गंभीर रुप से स्वास्थ्य संबंधी समस्या से ग्रसित होने के संकेत बताते हैं। [ये भी पढ़ें: महिलाओं की कुछ अस्वस्थ आदतें जिन्हें छोड़ देना है बेहतर]

अगर आपको सफेद रंग का गाढ़ा और मछली की दुर्गंध का डिसचार्ज हो रहा है तो आपको डॉक्टर से परामर्श कर लेना चाहिए। यह किसी गंभीर समस्या के संकेत हो सकते हैं। अत्यधिक वेजाइनल डिसचार्ज आपको अंदर से कमजोर बनाता है। सिर्फ ये ही नहीं बल्कि इसका असर मैन्स्ट्रूअल साइकल पर भी पड़ता है।

अत्यधिक वेजाइल डिसचार्ज की समस्या से बचने के लिए आपको पोषणयुक्त डाइट का सेवन करना चाहिए साथ ही खूब सारा पानी पीना चाहिए। इसके साथ ही वेजाइना को हमेशा साफ रखना चाहिए। कोशिश करें की साफ और बिना पसीने वाले कपड़े पहनें। साफ के साथ टाइट और छिपकने वाले कपड़े पहनने से बचें। आपकी वेजाइना को हवा की भी जरुरत होती है। मगर टाइट कपड़े पहनने से हानिकारक बैक्टीरिया की ग्रोथ बढ़ जाती है। [ये भी पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग के दौरान अदरक की चाय का सेवन क्यों बेहतर है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "