पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करने से क्या प्रभाव पड़ते हैं

health effects when you exercise during periods

बहुत महिलाएं मानती हैं कि पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से रक्त प्रवाह अधिक होता है। हालांकि यह गलत धारणा है। पीरियड्स के दौरान हर महिला को एक्सरसाइज करनी चाहिए, क्योंकि एक्सरसाइज करने से स्वास्थ्य बेहतर होता है और पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से भी राहत मिलती है। पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करने से कई फायदे प्राप्त होते हैं। इससे पीरियड्स के दौरान होने वाली असहजता भी कम हो जाती है। आइए जानते हैं कि पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज करने से महिलाओं के स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ते हैं। [ये भी पढ़ें: ब्रेस्ट पेन होने के क्या कारण हो सकते हैं]

1. पीरियड्स से पहले होने वाले लक्षणों में कमी: पीरियड्स से पहले होने वाले क्रैम्प, मूड स्विंग और अन्य लक्षण बहुत ज्यादा कष्टदायी होते हैं, जिनमें एक्सरसाइज की मदद से राहत पाई जा सकती है। एक्सरसाइज करने से आप मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत बनती हैं और पीरियड्स की वजह से होने वाले हार्मोनल असंतुलन में कमी आती है। जरुरी है कि आप नियमित एक्सरसाइज करें।

2. आरामदायक स्थिति: पीरियड्स की वजह से महिलाएं काफी असहज और परेशान महसूस करती हैं। लगातार रक्त स्राव, गीलापन और मूड स्विंग्स के कारण उनके व्यव्हार में चिड़चिड़ापन आने लगता है। लेकिन एक्सरसाइज करने से ब्लड क्लॉटिंग होती है और गीलेपन जैसी समस्याओं में राहत मिलती है जिससे महिलाएं आरामदायक स्तिथि महसूस करती हैं। इसलिए भी आपको पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज का अभ्यास करते रहना चाहिए। [ये भी पढ़ें: स्ट्रैच मार्क्स से बचने के उपाय]

3. मासिक धर्म में नियमितता: कई महिलाओं को अस्वस्थ होने की वजह से अनियमित मासिक धर्म से गुजरना पड़ता है, जो कि एक चिंताजनक और दुखदायी स्थिति होती है। रोजाना एक्सरसाइज तथा योग की सहायता से स्वास्थ्य बेहतर बनता है और मासिक धर्म में नियमितता आती है। एक्सरसाइज करने से आपके शरीर की आतंरिक गतिविधियां सुचारू रूप से काम करती हैं और अनियमित मासिक धर्म के कारणों से बचाव होता है।

4. क्या सावधानी बरतें: पीरियड्स के दौरान कौन से एक्सरसाइज करने चाहिए और कौन से नहीं इस के लिए अपने फिटनेस एक्सपर्ट से बात जरुर कर लें। अगर आप बीमार रहती हैं या आपको कोई स्त्रीरोग है, तो बेहतर होगा कि एक्सरसाइज करने से पहले आप संबंधित डॉक्टर से परामर्श जरुर लें। क्योंकि कुछ भी करने से पहले पूरी जानकारी और सुरक्षित रहना आवश्यक है। [ये भी पढ़ें: टैम्पोन्स का इस्तेमाल ना करने से होने वाले फायदे]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "