महिलाओं की आम आदतें जो यीस्ट इंफेक्शन का कारण बनती हैं

Habits That Increases The Risk Of Yeast Infection In Women

यीस्ट इंफेक्शन महिलाओं को होने वाली एक आम समस्या है। पर्सनल हाईजीन सही नहीं होने की वजह से महिलाएं इस समस्या से ग्रसित हो जाती हैं। योनि में यीस्ट और बैक्टीरिया बढ़ जाने के कारण वेजाइनल इंफेक्शन होती है और अगर समय रहते इसे नियंत्रित दूर नहीं किया जाता है तो यीस्ट इंफेक्शन की संभावना बढ़ जाती है। इस समस्या की वजह से योनि में जलन और खुजली होने लगती है जो कई बार असहनीय हो जाती है। यह समस्या सिर्फ योनि में नहीं बल्कि शरीर के और भी कई हिस्सों में हो सकती है। समय के साथ शरीर में होने वाले हॉर्मोनल बदलाव के कारण भी यीस्ट इंफेक्शन होने का खतरा रहता है। इसके अलावा महिलाओं की कई ऐसी आदतें होती हैं जिनके कारण उन्हें इस समस्या का सामना करना पड़ता है। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स में कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन महिलाओं के लिए होता है लाभकारी]

अधिक मीठा का सेवन करने से:
ब्लड में चीनी की मात्रा बढ़ जाने के कारण योनि का पीएच लेवल प्रभावित होता है जिसके कारण यीस्ट का उत्पादन होता है। चीनी का स्तर बढ़ने के कारण ग्लुकोज भी बढ़ जाता है जिसकी वजह से कैंडिडा एल्बिकान्स नामक ऑर्गेनिज्म वेजाइनल सेल्स में चिपक जाता है, जिसकी वजह से यीस्ट इंफेक्शन होता है।

टाइट पैंट्स पहनने से:
टाइट पैंट्स पहनने से वेजाइनल इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। ये त्वचा की नमी को खत्म करता है और योनि में इंफेक्शन का कारण बनता है। इस इंफेक्शन के कारण यीस्ट का उत्पादन होता है और यीस्ट इंफेक्शन की समस्या हो जाती है। [ये भी पढ़ें: मेनोपॉज से जुड़ी जानकारी जो महिलाओं को जाननी चाहिए]

वाइप्स और फेमिनिन वॉश:
महिलाओं को लगता है कि वाइप्स और फेमिनिन वॉश वेजाइना के लिए अच्छा होता है लेकिन ये योनि के उन बैक्टीरिया को नष्ट कर देता है जो यीस्ट से लड़ने में मदद करता है और इस प्रकार महिलाओं को यीस्ट इंफेक्शन का सामना करना पड़ता है। इसकी वजह से खुजली और जलन भी होने लगती है।

टैंपोन्स का इस्तेमाल करने से:
टैंपोन्स वेजाइना के पीएच बैलेंस और बैक्टीरिया को प्रभावित करता है। कई महिलाएं टैंपोन्स को सही समय पर नहीं बदलती हैं जिसकी वजह से योनि में बैक्टीरिया हो जाता है और इस कारण यीस्ट इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। लंबे समय तक टैंपोन्स को लगाए रहने से योनि से गुड बैक्टीरिया नष्ट कर देता है।

रात को लंबे समय तक बैठे रहने से:
कई महिलाएं काम की वजह से रात को लंबे समय तक बैठी रहती हैं जिसकी वजह से उनके योनि की नमी कम हो जाती है और ये यीस्ट के उत्पादन को बढ़ावा देता है। इस प्रकार यीस्ट इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। [ये भी पढ़ें: उम्र के साथ वेजाइना में क्या बदलाव आते हैं]

 

 

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "