महिलाओं में फर्टिलिटी बढ़ाने के लिए खाद्य पदार्थ

Read in English
foods to boost fertility in women

गर्भधारण करने के लिए फर्टिलिटी का बूस्ट होना जरुरी होता है और एक खुशहाल विवाहित जीवन के लिए गर्भधारण करना जरुरी माना जाता है। लेकिन आजकल तनाव, काम, लाइफस्टाइल का सही ना होना, हेल्दी फूड्स का सेवन ना करने की वजह से फर्टिलिटी कम हो जाती है और आपको गर्भधारण करने में दिक्कत आने लगती हैं। फर्टिलिटी को बूस्ट करने के लिए आपको पोषक तत्वों का सेवन करना चाहिए जो फर्टिलिटी को बूस्ट करने में मदद करते हैं। महिलाओं को इन फूड्स का सेवन करना चाहिए ताकि गर्भधारण करने में किसी तरह की कोई परेशानी ना आएं। तो आइे आपको इन फूड्स के बारे में बताते हैं जो महिलाओं को फर्टिलिटी बूस्ट करने के लिए खाने चाहिए। [ये भी पढ़ें: वेजाइना में सूजन होने के पीछे क्या कारण हो सकते हैं]

बीन्स: बीन्स में प्रोटीन और आयरन होते हैं जो ओवरी के लिए फायदेमंद होते हैं। इसके साथ ही इसमें उच्च मात्रा में फाइबर और कम मात्रा में फैट होते हैं जो वजन नहीं बढ़ने देती है। इसे अपने स्नैक्स में शामिल करें।

ओमेगा-3 ऑयल: गर्भधारण करने की सोच रही हैं तो इसके लिए ओमेगा-3 ऑयल महत्वपूर्ण होते हैं। इसमें इपीए( एयियोज़पेनटॅयेनिक एसिड) और डीएचए(डोकोसैक्सिनोइक एसिड) होते हैं जो फर्टिलिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं। साथ ही पेल्विक में होने वाली सूजन को कम करते हैं। अगर आप गर्भधारण करने की सोचते हैं तो डॉक्टर उससे कुछ समय पहले ओमेगा-3 ऑयल का सेवन करने की सलाह देते हैं। [ये भी पढ़ें: हर उम्र में अपनी वेजाइना का कैसे ध्यान रखें]

हरी सब्जियां: फर्टिलिटी को बढ़ाने के लिए हरी पत्ती वाली सब्जियों का सेवन करें। आप पालक, ब्रोकली आदि का सेवन कर सकते हैं इनमें उच्च मात्रा में फोलेट और विटामिन बी होता है जो ओव्यूलेशन में सुधार करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही हरी सब्जियां महिलाओं में लिबिडो बढ़ाने में दद करता है।

डेयरी प्रोडक्ट: जिन फूड्स में उच्च मात्रा में कैल्शियम होते हैं वह ना सिर्फ हड्डियों को मजबूत बनाता है बल्कि प्रजनन स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होते हैं। डेयरी प्रोडक्ट में पॉलीआमीन नामक प्रोटीन होता है जो पेड़ पौधों से मिलता है। यह प्रोटीन एग के स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद करते हैं और ओवरी के कार्य में सुधार करने में मदद करता है। यह ओव्यूलेशन की समस्या को भी कम करता है।

बादाम: बादाम में विटामिन ई, मैंगनीज, कॉपर और बायोटिन होता है। विटामिन ई अंडे की गुणवत्ता में सुधार करता है और जन्मदोष की संभावना भी कम करता है। [ये भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान कौन सी एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "