सीपीआर प्रणाली से जान बचाना सीखें

Read in English
how to save lives with CPR system

pc: alliedmedtraining.com

मानव जीवन का कोई भरोसा नहीं हैं, अनहोनी कभी भी और कहीं भी हो सकती है और हर किसी को इसके लिए तैयार रहना चाहिए। सीपीआर(कार्डियो पल्मोनरी रिससिटेशन) एक ऐसी जीवन रक्षक प्रणाली है जिसकी जानकारी सबको होना जरुरी होता है। आपका दिल शरीर के हर हिस्से में रक्त के माध्यम से ऑक्सीजन पहुंचाता है, कार्डिक अरेस्ट और हार्ट अटैक आने से आपका दिल धड़कना बंद हो जाता है। इस घातक स्थिति में आपको सीपीआर का इस्तेमाल करना होता है। इसे सही तरीके से करने से आपका दिल फिर से धड़कना शुरु हो जाता है ये लोगों की जान बचा सकता है।[ये भी पढ़ें: पैर की हड्डी टूट जाने पर घायल व्यक्ति को कैसे दें प्राथमिक उपचार]

सीपीआर करने का तरीका 
मरीज को कमर के बल लेटाएं: आप ये निश्चित करें की मरीज कमर के बल लेटा हो क्योंकि सीपीआर प्रणाली में आप मरीज के सीने पर दबाव डालते हैं। अगर लेटने का तरीका गलत हो तो यह हानिकारक हो सकता है।

आप मरीज के सिर को पीछे झुकाएं: इसमें आप मरीज की ठोड़ी पकड़कर अपनी हथेली से पूरी सावधानी से पीछे की ओर करें।

हाथों की स्थिति: आपका एक हाथ मरीज की ब्रस्टबोन पर होना चाहिए और दूसरा उससे थोड़ा ऊपर होना चाहिए। दोनों हाथों को एक-दूसरे के ऊपर इस प्रकार रखें की उनका प्रेशर प्वाइंट ठीक दिल के मध्य भाग के ऊपर हो।[ ये भी पढ़ें: प्लास्टिक बोतल की मदद से रस्सी कैसे बनाएं]

अपने शरीर को हाथ से ऊपर रखें: यह सुनिश्चित करना है कि आपके हाथ सीधे और दृढ़ रहें। परेशान न हों और अपने ऊपरी शरीर की ताकत का उपयोग करें।

सीने पर दबाव डालें: यह तरीका सीने के कंप्रेशन के लिए होता है, इसके लिए आप अपने हाथ ठीक स्तनों के ऊपर रख कर कंप्रेश करें ये कंप्रेशन ही सबसे महत्वपूर्ण होता है और दिल को फिर से धड़कने में मदद करता है। लेकिन दिल को धड़काने के लिए जरुरी कंप्रेशन करते समय आप सीने पर सिर्फ इतना दबाव डालें कि वो 2 इंच या 5 सेमी नीचे की तरफ जाए और इस प्रक्रिया को कई बार दोहराएं।

10 सेकेंड का अंतराल लें: जब आप सीपीआर की प्रक्रिया दोहराते हैं तो हर बार 10 सेकेंड का अंतराल लें और इस प्रक्रिया को तब तक दोहराएं जब तक की मेडिकल मदद मुहैय्या ना हो जाएं।। [ये भी पढ़ें: पेंसिल की मदद से आग कैसे जलाएं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "