सर्दियों में आपको सनग्लास क्यों पहनने चाहिए

Read in English
why you should wear sunglasses during winter

Pic Credit: pic.139zhuti.com

अगर आप गर्मियों में सूरज की किरणों से बचने के लिए सनग्लास पहनते हैं तो सर्दियों में भी आपको इनकी उतनी ही जरुरत होती है। हालांकि लोग अक्सर इस गलतफहमी में रहते हैं कि सर्दियों में उन्हें सनग्लास पहनने की जरुरत नहीं होती। शोध बताते हैं कि सर्दियों में आपकी आँखों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाव की आवश्यकता अधिक होती है क्योंकि आपकी आँखें इन किरणों के कारण खराब हो सकती हैं। सर्दियों की धूप में भी यूवीए और यूवीबी किरणें होती हैं जैसे वो गर्मियों में होती है। बर्फ वाले क्षेत्रों में यह खतरा दोगुना हो जाता है क्योंकि बर्फ धूर की किरणों को रिफ्लेक्ट करता है। इसलिए आपको जानना चाहिए कि सर्दियों में भी आपको सनग्लास पहनने चाहिए। आइए जानते हैं सर्दियों में आपको सनग्लास क्यों पहनने चाहिए। [ये भी पढ़ें: व्हाइट शुगर की तुलना में ब्राउन शुगर का सेवन करना क्यों लाभकारी है]

सिर दर्द से बचाव
जब अधिक रोशनी हमारे रेटिना तक पहुंचती है तो आपको सिर दर्द की शिकायत हो सकती है। हालांकि हमारे आंख में मौजूद प्यूपिल अतिरिक्त रोशनी को रेटिना तक पहुंचने से बचाता है लेकिन जब हम सूरज के संपर्क में होते हैं तो प्यूपिल प्रभावी तरीके से काम नहीं कर पाता है जिस कारण आपको चीजों को देखने में परेशानी होती है और सिर दर्द होने की संभावनाएं होती हैं। ऐसे में सनग्लास पहनने से आपकी आँखें अत्यधिक रोशनी से बच सकती हैं।

आँखों की रोशनी में सुधार
हमारी आँखों को प्रकाश की सही मात्रा की जरुरत होती है ताकि हम किसी भी वस्तु को सही तरीके से देख पाएं। अगर यह प्रकाश की मात्रा अधिक हो जाती है तो अत्यधिक चमक के कारण हमारे रेटिना को विरंजन(ब्लीचिंग) का सामना करना पड़ता है जिससे विज़न एक्यूटी(दृश्य तीक्ष्णता) कम हो जाती है। इसलिए सनग्लास पहनने से आप अधिक प्रकाश से बचते हैं और आपकी आँखों की रोशनी सही रहती है। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जो आपको बैक्टीरिया और जर्म्स से लड़ने में मदद करते हैं]

आँखों को धूल से बचाता है
हवा में मौजूद धूल और गंदगी के बारीक कण आराम से आपकी आँख में पहुंचकर इन्हें नुकसान पहुंचाते हैं। इसके कारण आपको बहुत असहजता महसूस हो सकती है, साथ ही आपकी दृष्टि भी अस्पष्ट हो जाती है। अगर आप सनग्लास पहनते हैं तो इससे आप धूल के कणों से बच जाते हैं।

अधिक चमक को रोकता है
सर्दियों में हवा में मौजूद फोग या धुएं के कारण सूरज की रोशनी वस्तु के माध्यम से तेज़ी से होकर जाती है। इस चमक की वजह से आँखों को स्थायी क्षति या हानि हो सकती है। इसलिए सनग्लास पहने। यह चीजों को ठीक से देखने में आपकी मदद करते हैं।

सूरज की हानिकारण किरणों से बचाव
सूरज के अधिक संपर्क में होने से आपकी आँखों को नुकसान पहुंचता है। इसके कारण मोतियाबिंद और मेक्यूलर डिजेनरेशन की समस्याएं हो सकती हैं। हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणें आँखों के कॉर्निया को क्षति पहुंचाती हैं जिसके कारण मोतियाबिंद की समस्या का खतरा होता है। सनग्लास आपकी आँखों की इन हानिकारक यूवी किरणों से रक्षा करते हैं, साथ ही सनग्लास पहनने से आँखों के आसपास की त्वचा भी सुरक्षित रहती है और झुर्रियों से बचाव होता है। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जो एंटीसेप्टिक की तरह काम करते हैं]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "