एल्युमिनियम फॉइल में रखा खाना कर सकता है आपको बीमार

Read in English
why should avoid wrapping your food in aluminium foil

Pic Credit: seriouseats.com

हम में से अधिकतर लोग हर रोज ऑफिस, कॉलेज या स्कूल जाते वक्त भोजन लेकर जाते हैं। हम अपना खाना एल्युमिनियम फॉइल में लपेट कर ले जाते हैं ताकि खाना नरम रहे और लंच टाइम तक ठंडा ना हो। एल्युमिनियम फॉइल आपके खाने को नरम रखने का काम बखूबी करता है लेकिन इसके साथ ही यह आपके खाने को दूषित भी करता है जिसे खाने के बाद आप बीमार हो सकते हैं। एल्युमिनियम फॉइल में रखे गए भोजन में एल्युमीनियम कंटेन्ट उच्च मात्रा में पाया जाता है। यह आपके लिए मनोवैज्ञानिक, भौतिक, और शारीरिक, सभी पहलुओं से कई समस्याएं पैदा कर सकता है। आइए जानते हैं कि एल्युमिनियम फॉइल में खाना रखना आपको कैसे कर सकता है बीमार। [ये भी पढ़ें: आंखों के फड़फड़ाने के पीछे क्या कारण होते हैं]

एल्युमिनियम फॉइल वाले खाने में एल्यूमीनियम की मात्रा अधिक होती है
एल्युमिनियम पर्यावरण में व्यापक रूप पाया जाने वाला धातु है और यह पर्यावरण, आहार और दवा के जरिए हमारे शरीर को मिलता है। अगर आप इन स्रोतों से एल्युमीनियम का सेवन करते हैं तो आपको नुकसान नही होता क्योंकि इनमें इसकी पर्याप्त और सीमित मात्रा होती है। लेकिन अगर आप एल्युमिनियम फॉइल में रखें भोजन का सेवन करते हैं तो आपके खाने में एल्युमिनियम की मात्रा अन्य स्रोतों से ज्यादा होती है। यह भोजन उच्च तापमान के संपर्क में आता है तो इसमें एल्यूमीनियम की वृद्धि होती है। जिसके सेवन से आपकी सेहत प्रभावित होती है।

एल्युमिनियम फॉइल के इस्तेमाल से होने वाले दुष्प्रभाव

why should avoid wrapping your food in aluminium foil
Pic credit:

हर रोज प्राकृतिक स्रोतों से होने वाले एल्युमिनियम का सेवन स्वस्थ होता है क्योंकि हमारा शरीर कुशलतापूर्वक फालतू एल्युमिनियम को मल के साथ निकला देता है। अगर आप एल्युमिनियम में खाना रखते हैं या बनाते हैं तो इससे अतिरिक्त एल्युमिनियम आपके शरीर में पहुंचकर न्यूरोलॉजिकल प्रॉब्लम्स को बुलावा देता है। रिसर्च के अनुसार, एल्युमिनियम की अधिक मात्रा एल्ज़ाइमर डिजीज का कारण बनती है। एल्ज़ाइमर डिजीज एक न्यूरोलॉजिकल कंडीशन है जो कि ब्रेन सेल्स की कमी के कारण होती है। इसके अलावा कुछ शोधों में यह भी पाया गया है कि डाइटरी एल्युमिनियम के कारण इंफ्लेमेट्री बोवेल डिजीज का कारण भी होता है। [ये भी पढ़ें: एयर कंडीशनर वाले कमरे में सोने से आप सेहत खराब कर रहे हैं]

कितना एल्युमीनियम उचित है
मानव शरीर एल्युमीनियम की थोड़ी मात्रा का उत्सर्जन कर सकता है। इसका मतलब यह है कि एल्युमीनियम की कम मात्रा को सेवन करने से आपकी सेहत को कोई समस्या नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार एक स्वस्थ व्यक्ति प्रति दिन उसके शरीर के प्रति किलो वजन पर 40 मिलीग्राम एल्युमिनियम का सेवन कर सकता है। इसके मुताबिक जिस व्यक्ति का वजन 60 किलो है उसके लिए एल्युमिनियम की उच्च मात्रा 2400 मिलीग्राम होगी।

क्या करें
हालांकि ऐसा माना जाता है कि लोग जरुरी मात्रा से कम एल्युमिनियम का सेवन करते हैं लेकिन आप इसकी अधिक मात्रा का सेवन करने से बचने के लिए कुछ उपाय कर सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "