ज्यादा नींद लेना या अच्छी नींद लेना: क्या है जरुरी

Read in English
Why quality sleep is more important than sleep quantity

हम में से बहुत से लोग सुबह उठने के बाद थका-थका महसूस करते हैं जबकि हम पूरी नींद ले चुके होते हैं। हम हर बार इस बात को अनदेखा कर देते हैं। हालांकि इस बात पर ध्यान देने की जरुरत है। आपको ये समझना चाहिए कि इसके लिए कई कारण जिम्मेदार होते हैं। हम कितने देर सोते हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि हम जितनी देर भी सोएं, उस समय में अगर हम अच्छी नींद लेते हैं, वह महत्व रखता है। कोई भी व्यक्ति 4 घंटे की अच्छी नींद के बाद भी तरोताजा महसूस करता है, बल्कि किसी व्यक्ति को 8 घंटे की बाधा वाली नींद में भी थकावट महसूस होती है। हमारे शरीर और दिमाग को रात को सोते वक्त हील करने की और आराम लेने की जरुरत होती है। इसलिए आइए जानते हैं कि आपके लिये क्या जरुरी है: ज्यादा नींद लेना या अच्छी नींद लेना। [ये भी पढ़ें: रात को बीच में नींद खुल जाने के पीछे क्या कारण हो सकते हैं]

आपकी नींद की गुणवत्ता महत्वपूर्ण है
इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप 12 घंटे के लिए सोते हैं या 8 घंटे के लिए। फर्क इस बात से पड़ता है कि आप उस समय में कितनी देर के लिए अच्छे से सोते हैं। अगर आप 5 घंटे की नींद ले रहे हैं और उस दौरान आपकी नींद बिल्कुल भी बाधित नहीं होती है और आप भरपूर आराम लेते हैं तो यह आपकी नींद की गुणवत्ता है और यह आपके लिये महत्वपूर्ण है। यह रेपिड आई मूवमेंट(आरईएम) पर निर्भर करता है। हमारी नींद की आरईएम साइकिल हमारी ड्रीम साइकिल को दर्शाती है। पहला आइईएम आपको सोने के एक घंटे के बाद मिल जाता है। हर 90 या 120 मिनट के अंतराल पर यह फिर से आता है। आरईएम स्लीप से पता चलता है कि हमने अच्छे से आराम किया है।

नींद कैसे आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करती है
शोध में साबित हो चुका है कि अच्छी नींद आपको स्वस्थ रहने में मदद करती है। जो लोग आरामदायक नींद लेते हैं और जिनका दिमाग सोते वक्त शांत रहता है उन्हें एंग्जायटी, थकान और गुस्सा आने की समस्या कम होती है। वहीं, दूसरी तरफ जो लोग लंबे समय तक सोते हैं लेकिन उनकी नींद बाधित होती है, उन्हें थकान, गुस्सा आना और चिंता जैसी समस्याएं होनी की संभावनाएं ज्यादा होती है। ये लोग लंबे समय तक सोने के बाद भी अच्छा महसूस नहीं करते हैं और इन्हें दिनभर नींद आने जैसा महसूस होता है। इसलिए ये साबित होता है कि लंबे समय तक बेकार नींद लेने से बेहतर है कि आप कम समय के लिए अच्छी नींद लें। शोध बताते हैं कि अधिक सोना भी आपकी सेहत के लिए हानिकारक होता है। [ये भी पढ़ें: बेहतर नींद के लिए लाभकारी खाद्य पदार्थ]

अच्छी नींद कैसे लें: आप कुछ तरीके अपनाकर क्वालिटी स्लीप ले सकते हैं।

हॉट शावर लें: जब आप हॉट शावर लेते हैं, तो यह आपकी मसल्स और ज्वाइंट्स को आराम मिलता है। इसलिए यह आपको बेहतर नींद लेने में मदद करता है।

अपना फोन दूरी पर रखें: मोबाइल फोन जैसी डिवाइस आपकी नींद को बाधित करती हैं इसलिए इन्हें सोते वक्त अपने पास ना रखें। सोते वक्त मोबाइल फोन स्विच ऑफ कर दें।

सोने से पहले कॉफी का सेवन ना करें: सोने से पहले कॉफी का सेवन करने से आपको नींद आने में परेशानी होती है क्योंकि कॉफी में मौजूद कैफीन आपको जगाने का काम करता है।

सोने का शेड्यूल तय करें: आप किस समय सोने जा रहे हैं, उस समय को निर्धारित कर लें और हर रोज इसी वक्त सोने जाएं। इससे आपको स्वीपिंग पैटर्न बनाने में मदद मिलेगी। [ये भी पढ़ें: सर्दियों में कपड़ों को बिना धोएं कैसे दुर्गंध दूर करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "