पेट में मौजूद अतिरिक्त एसिड को कम करने के लिए खाद्य पदार्थ

Which food helps to Reduce Excess Stomach Acid

हमारे पेट में नेचुरल एसिड होता है जो खाद्य पदार्थ को ब्रेकडाउन करता है और साथ ही गैस्ट्रोइन्टेस्टाइल ट्रैक्ट को इंफेक्शन से भी बचाता है। लेकिन पेट में होने वाले अत्यधिक एसिड की वजह से असहजता महसूस होती है। इसके अलावा इसकी वजह से पेट में दर्द होता है और भी कई स्वास्थ्य समस्याएं होती है। कई बार पेट में मौजूद एसिड की वजह से हार्ट बर्न और अल्सर जैसी बीमारियों का भी सामना करना पड़ जाता है। यह समस्या तब होती है जब पेट में मौजूद एसिड पेट से खाने की नली में वापस पहुंच जाता है और आपके खाने की नली में परेशानी का कारण बनता है। लेकिन कई कई पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थ होते हैं जिनकी मदद से इस समस्या से निजात पाया जा सकता है। आइए जानते हैं पेट में मौजूद अतिरिक्त एसिड को कम करने के लिए किन खाद्य पदार्थों का सेवन करना बेहतर होता है। [ये भी पढ़ें: कारण जिनकी वजह से रात को अच्छी नींद नहीं आती है]

अदरक:
Which food helps to Reduce Excess Stomach Acidअदरक में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते है जो पेट में होने वाली समस्या को बेहतर करने में मदद करता है और साथ ही गैस्ट्रोइन्टेस्टाइनल कंडीशन को भी ठीक करता है। इसके अलावा पेट के बनने वाले अत्यधिक एसिड से भी छुटकारा दिलाता है और उसके लक्षणों से लड़ने में मदद करता है।

ओटमील:
ओटमील में फाइबर उच्च मात्रा में होता है जो पेट में होने वाले एसिड को अवशोषित करता है और एसिडिटी के लक्षणों को कम करता है। फाइबर कब्ज की समस्या को कम करता है, आंतों के स्वास्थ्य को बेहतर करता है और साथ ही पेट को लंबे समय तक भरा हुआ रखने में मदद करता है। [ये भी पढ़ें: आलसी लोग अपना मेटाबॉल्जिम आसानी से कैसे बढ़ाएं]

दूध:
Which food helps to Reduce Excess Stomach Acidदूध में पाए जाने वाला कैल्शियम एक एल्कलाइन मिनरल होता है जो एसिड को न्यूट्रिलाइज करता है। दूध में पाए जाने वाला कैल्शियम पेट के एसिड को कम करने में बहुत प्रभावी होता है। अगर आप इस समस्या से ग्रसित हैं तो एक गिलास दूध का सेवन करना आपके लिए बेहतर विकल्प होता है।

कच्चा सलाद:
कच्चा सलाद नेचुरल एल्कलाइन होता है और साथ ही पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए फायदेमंद होता है। सलाद का सेवन पेट की जलन को कम करता है और साथ ही पेट की एसिडिटी को भी कम करने में मदद करता है। इसके अलावा ये पेट में अतिरिक्त एसिड के उत्पादन को भी रोकता है।

जैतून का तेल:
जैतून का तेल हार्ट बर्न की समस्या से राहत दिलाता है और साथ ही इसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होता है जो पेट की जलन और सूजन से भी राहत दिलाने में मदद करता है। इसके अलावा ये पेट में बनने वाले एसिड से लड़ने में भी सहायता करता है। [ये भी पढ़ें: दिल की धड़कने बढ़ने के पीछे क्या कारण हो सकते हैं]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "