अस्थमा अटैक से बचने के लिए क्या करें

Read in English
Tips for Asthma Attack

Asthma Attack: अस्थमा अटैक से बचने के लिए अपने दैनिक दिनचर्या में बदलाव लाएं

अस्थमा एक ऐसी समस्या है जो अनुवांशिकता की वजह से होता है। जब आपके फेफड़ों तक हवा आसानी से नहीं जा पाता है तो अस्थमा (Asthma Attack) की समस्या होती है। इसकी वजह से सांस लेने में मुश्किल होती है और आपको सुखी खांखी, घरघराहट और सांसों से जुड़ी समस्या भी होने लगती है। ब्रीदिंग के कारण आपके सांस लेने वाली नली में सूजन हो जाती है जिसकी वजह से अस्थमा अटैक आता है। अस्थमा अटैक की वजह से सांस लेने वाली नली और उसकी लाइनिंग में सूजन आ जाती है जिसके कारण कई बार बलगम का भी उत्पादन होने लगता है। अस्थमा के कई सामान्य एलर्जेन्स भी होते हैं जैसे- धूल-मिट्टी और मोल्ड। यह प्रदूषण, ठंड और धूम्रपान की वजह से होता है। अस्थमा अटैक की समस्या से कुछ आसान टिप्स का पालन कर के आप निजात पा सकते हैं। [ये भी पढ़ें: अस्थमा के लिए प्रभावी योगासन]

अस्थमा अटैक (Asthma Attack) से कैसे बचें:

  • मोल्ड से बचें
  • धूल-मिट्टी से बचें
  • धूम्रपान के सेवन से बचें
  • एक्सरसाइज ना करें
  • पोषक तत्वों का सेवन करें

मोल्ड(Mold) से बचें: 
मोल्ड एक ऐसा एलर्जेन्स है जो आपके अस्थमा के लक्षणों को बढ़ावा देता है। मोल्ड आपके शॉवर कर्टन, टब, टाइल्स और नहाने वाली चीजों में होता है। ऐसे में कोशिश करें कि आप अपने बाथरूम और किचेन की सफाई समय-समय पर करें ताकि आपको एलर्जी ना हो।

धूल-मिट्टी से बचें:
धूल-मिट्टी अस्थमा के बढ़ने का एक बहुत बड़ा कारण होता है क्योंकि इनमें पॉलेन, मोल्ड और डिटरजेंट जैसे टाइनी पार्टिकल्स मौजूद होते हैं। ऐसे में आपको अपने घर, बेडरूम और कार्पेट को सप्ताह में दो बार जरूर साफ करना चाहिए।

धूम्रपान(Smoking) के सेवन से बचें:

Asthma Attack: अस्ठमा अटैक से बचने के लिए धूम्रपान के सेवन से बचें

धूम्रपान आपके फेफड़ों में जलन पैदा करता है, खासकर जब आप अस्थमा के रोगी हो। धूम्रपान आपकी अस्थमा की समस्या को बढ़ाता है। इसकी वजह से आपकी कफ और घरघराहट की समस्या और बिगड़ सकती है। ऐसे में धूम्रपान से सेवन से बचें। इसके अलावा धूम्रपान की आदत को कैसे छोड़ें, जानने के लिए लिंक पर क्लिक करें।

एक्सरसाइज(Exercise) ना करें:
अस्थमा के दौरान एक्सरसाइज करने की वजह से आपकी समस्या बढ़ सकती है। अस्थमा के दौरान एक्सरसाइज करने से आपके फेफड़े और हृदय पर अधिक दबाव पड़ता है जिसकी वजह से आपको अस्थमा अटैक आ सकता है।

पोषक तत्वों का सेवन करें:

Tips for Asthma Attack
Asthma Attack: पोषक तत्वों का सेवन करना लाभकारी होता है

अस्थमा के दौरान पोषक तत्वों का सेवन बहुत लाभकारी होता है। अस्थमा के रोगियों को फ्लेवोनॉइड्स, विटामिन, ओमेगा-3 फैटी एसिड और सेलेनियम का सेवन करना करना चाहिए क्योंकि यह अस्थमा के लक्षणों को कम करता है। हरी सब्जियां और फलों का सेवन आपके लिए लाभकारी होता है।  [ये भी पढ़ें: अस्थमा से बचने के लिए अपनाएं ये घरेलू नुस्खें]

अस्थमा अटैक(Asthma Attack) से बचने के लिए आपको कुछ चीजों को अपने दैनिक दिनचर्या शामिल करना चाहिए और साथ ही कुछ चीजों को करने से बचना भी चाहिए।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "