Pea Milk Benefits: पी मिल्क का सेवन करने के फायदे

Read in English
Reasons Why You Should Try Pea Milk

Pea Milk: पी मिल्क में प्रोटीन की अच्छी मात्रा होती है।

Pea Milk Benefits: पी मिल्क प्लांट बेस्ड मिल्क है जिसे पीली मटर से बनाया जाता है। प्लांट बेस्ड मिल्क इन लोगों के लिए विशेष रुप से फायदेमंद हैं जो लैक्टोस इंटोलरेंस होने या नापसंद होने के कारण सामान्य दूध नहीं पी पाते हैं। इन दिनों बाजार में कई तरह के पी मिल्क मौजूद हैं जैसे ओट्स मिल्क, आल्मंड मिल्क, सोय मिल्क आदि। पी मिल्क (Pea Milk) में प्रोटीन की अच्छी मात्रा होती है और इसका स्वाद मटर की तरह नहीं होता है। इसलिए अगर आप सामान्य दूध के विकल्प के बारे में सोच रहे हैं तो आप पी मिल्क का सेवन कर सकते हैं। आइए इसके पोषक तत्वों और लाभों के बारे में जानते हैं। [ये भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए कौन से दूध का सेवन करें]

Benefits of Pea Milk: पी मिल्क का सेवन क्यों लाभकारी है

  • भरपूर पोषक तत्व
  • प्लांट बेस्ड प्रोटीन का अच्छा स्रोत
  • कम कैलोरी
  • शुगर और कार्ब्स की मात्रा कम
  • हाइपोएलर्जैनिक

भरपूर पोषक तत्व
पी मिल्क में सामान्य दूध की तरह की भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाएं जाते हैं। इसमें पोटेशियम, गुड फैट, विटामिन डी, विटामिन ए, आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम और कैलोरी की अच्छी मात्रा होती है।

प्लांट बेस्ड प्रोटीन का अच्छा स्रोत
पी मिल्क प्लांट बेस्ड प्रोटीन का अच्छा स्रोत है। एक कप पी मिल्क में गाय के दूध की तरह ही 8 ग्राम प्रोटीन होता है।

कम कैलोरी

benefits of pea milk
Benefits of Pea Milk: पी मिल्क का सेवन आप गाय के दूध के विकल्प के रुप में कर सकते हैं।

यह दूध उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है जो वजन कम करने की सोच रहे हैं। पी मिल्क में गाय के दूध से भी कम कैलोरी और कार्ब्स होते हैं। एक कप अनस्वीटन पी मिल्क में 70 कैलोरी होती हैं।

शुगर और कार्ब्स की मात्रा कम
पी मिल्क में शुगर और कार्ब्स की मात्रा भी कम होती है। एक कप पी मिल्क में ज़ीरो कार्ब्स होते हैं और शुगर भी नहीं होती है क्योंकि इसमें लैक्टोस नहीं होते हैं।

हाइपोएलर्जेनिक
पी मिल्क हाइपोएलर्जैनिक है इसलिए इसके सेवन से किसी तरह की एलर्जी होने का खतरा नहीं होता है। इसका सेवन वो लोग भी कर सकते हैं जो लैक्टोस इंटोलरेंस हैं।

[जरुर पढ़ें: वजन कम करने के लिए कौन से दूध का सेवन करें]

ये कुछ फायदे हैं जो पी मिल्क के सेवन से आपको मिलते हैं। इसका सेवन आप गाय के दूध के विकल्प के रुप में कर सकते हैं। आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "