bone break: हड्डी टूटने पर आपके शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है

Bone break: हड्डी के टूटने पर आपके शरीर में कई प्रभाव पड़ते हैं।

हड्डियां मजबूत होने के साथ हमारे शरीर को सीधा रखने में मदद करती हैं। यह शरीर का सबसे सक्रिय अंगों में से एक होता है। गिरने से हड्डी का टूट जाना असामान्य होता है या हड्डी के कमजोर होने की वजह से गिरने पर यह टूट जाती हैं। मगर अच्छी बात यह है कि कुछ समय बाद यह घाव ठीक होकर हड्डी जुड़ भी जाती हैं। ऐसा स्टेम कोशिकाओं और हड्डी की नवीनीकृत क्षमता की वजह से होता है। फैक्चर में आपके शरीर की उस अंग की हड्डी टूट जाती है। जिसे डॉक्टर उसे सही तरीके से हील करने की प्रक्रिया से ठीक कर सकते हैं। मगर हड्डी टूटने के बाद आपके शरीर में कुछ बदलाव आते हैं। इन बदलावों के बारे में जानकर आप शरीर को होने वाली समस्या से बच सकते हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि हड्डी के टूटने पर आपके शरीर में क्या बदलाव आते हैं। [ये भी पढ़ें:  हड्डी में फ्रेक्चर(Bone Fracture) को ठीक करने के लिए घरेलू उपचार]

Bone break: हड्डी टूटने से शरीर पर होने वाले बदलाव

नई हड्डी बनने के लिए कैलस टूटता है
सूजन
हीमेटोमा का बनना
रक्त कोशिकाएं टूट जाती हैं

नई हड्डी बनने के लिए कैलस टूटता है: हड्डी टूटने पर सॉफ्ट कैलस कठोर कैलस से बदलते हैं। यह मजबूत होता है लेकिन हड्डी की तरह नहीं। मजबूत हड्डी का बनना फ्रैक्चर के 3-4 हफ्ते बाद शुरु होता है। हड्डी के दोबारा से बनने में थोड़ा समय लगता है। यह समय हड्डी के टूटने और उसके आकार पर निर्भर करता है।

सूजन: हड्डी टूट जाने के बाद इम्यून सिस्टम शरीर के उस अंग में सूजन करना शुरु कर देता है। हीलिंग के लिए सूजन आना जरुरी होता है। टिशू, बोनमैरो और खून अब स्टेम सेल्स को फ्रैक्चर वाली जगह पर भेजता है। इससे आपके शरीर में टूटी हुई हड्डी का बनना शुरु हो जाता है।

हीमेटोमा का बनना: आपके शरीर में जो खून का थक्का जमा हुआ होता है वह फ्रैक्चर वाली हड्डी के पास एकत्रित होने लगता है। इसे हीमेटोमा कहते हैं। यह थोड़े समय के लिए होता है और प्रोटीन की तरह काम करता है ताकि टूटी हुई हड्डी जुड़ सके।

रक्त कोशिकाएं टूट जाती हैं: फ्रैक्टर होने के बाद जो चीज सबसे पहले होती है वह है ब्लीडिंग। यह ब्लीडिंग हड्डियों के आस-पास डॉटेड रक्त कोशिकाओं के टूटने की वजह से होता है।

[जरुर पढ़ें: Spine Health: रोजाना की गलतियां जो रीढ़ की हड्डी को डैमेज कर सकती हैं]

जब शरीर के किसी अंग की हड्डी टूटती है तो उसका आपके शरीर पर प्रभाव पड़ता है। इन प्रभावो के बारे में जरुर जानें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "