healthy sweets: भारतीय मिठाईयों में कौनसे बदलाव करके उन्हें हेल्दी बनाया जा सकता है

What small changes in diet do reduce weight

भारतीय मिठाईयों में कुछ बदलाव करके उन्हें स्वादिष्ट बनाया जा सकता है।

healthy sweets: हर व्यक्ति मिठाई खाने का शौकिन होता है। भारतीय मिठाईयां जैसे रसगुल्ला, गुलाबजामुन, जलेबी, रस मलाई आदि सबको ललचाती है लेकिन इनमें मौजूद शुगर इसके हानिकारक प्रभावों को बढ़ा देती है। स्वादिष्ट मिठाईयों को आप खाना चाहते हैं लेकिन साथ-साथ आपको अपने स्वास्थ्य की भी बेहद चिंता है तो आप कुछ भारतीय मिठाईयों का लुफ्त ले सकते हैं। आइए जानते हैं कि भारतीय मिठाईयों में कौनसे बदलाव करके उन्हें हेल्दी बनाया जा सकता है।[ये भी पढ़ें:  Healthy indian foods: स्वस्थ रहने के लिए कौन से भारतीय आहार का सेवन करें]

healthy sweets: भारतीय मिठाईयों को कैसे हेल्दी बनाया जा सकता है

  • काजू बर्फी की बजाय खाएं अन्य बर्फी
  • चीनी की बजाय गुड़ वाली मिठाईयां खाएं
  • जलेबी की बजाय चिक्की खाएं
  • गुलाब जामुन की बजाय खाएं रसगुल्ला
  • डार्क चॉकलेट खाएं

1.काजू बर्फी की बजाय खाएं अन्य बर्फी- बर्फी के शौकिन है तो काजू बर्फी खाने की बजाय आप अन्य कई तरह की स्वादिष्ट बर्फियों का सेवन कर सकते हैं। आप अंजीर बर्फी, खजूर बर्फी आदि का सेवन कर सकते हैं जो ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक होती है।

2.चीनी की बजाय गुड़ वाली मिठाईयां खाएं- मिठाई खाने पर आपका नियंत्रण नहीं है तो चीनी से बनी मिठाईयां खाने की बजाय गुड़ से बनी मिठाईयों का सेवन करें। गुड़ की मिठास बेहतर होती है और यह सेहत के लिए हानिकारक नहीं होता है।

3. जलेबी की बजाय चिक्की खाएं- जलेबी तेल में तली हुई होती है साथ ही उनमें बेहद चाशनी भी होती है। इसकी बजाय गुड़ और नट्स से बनी रोस्टेड चिक्की का सेवन करें जो कि स्वादिष्ट भी होती है और स्वास्थ्यर्धक भी।

4. गुलाब जामुन की बजाय खाएं रसगुल्ला-

What small changes in diet do reduce weight
healthy sweets:  गुलाब जामुन का सेवन रसगुल्ले की बजाय ज्यादा लाभकारी होता है

रसगुल्ला छैने से बना होता है जो कि दूध को गाढ़ा करके बनाया जाता है जो कैल्शियम का अच्छा स्त्रोत होता है। मजबूत हड्डियों और दांतों के लिए कैल्शियम महत्वपूर्ण मिनरल होता है। इसके साथ ही दूध में विटामिन डी होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। इसलिए गुलाब जामुन की बजाय रसगुल्ला खाना नुकसानदायक नहीं होता है।

5. डार्क चॉकलेट खाएं- साधारण चॉकलेट की बजाय डार्क चॉकलेट या उससे बनी मिठाईयां खाएं। ये मिठाईयां सेहत के लिए लाभकारी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है।

[जरुर पढ़ें: Benefits Of Citrus Peels: सिट्रस फूट्स के छिलके से होने वाले स्वास्थ्य लाभ]

इन सभी बदलावों से आप भारतीय मिठाईयों को स्वादिष्ट बना सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "