Symptoms of a Broken Bone: हड्डी टूट जाने के संकेत

Symptoms of a Broken Bone

Symptoms of a Broken Bone :हड्डी टूटने से शरीर में सूजन आ जाती है।

Symptoms of a Broken Bone: हड्डी टूट जाने यानि फ्रैक्चर भी अलग-अलग प्रकार का होता है। कई बार हड्डी थोड़ी सी टूटती है तो कभी-कभी उसमें बड़ा फ्रैक्चर आ जाता है। हड्डी में मामूली सी दरार हेयर लाइन फ्रैक्चर कहलाती है। बहुत बार गिर जाने और चोट लग जाने के कारण हड्डी टूट जाती है जिसके बारे में लोगों को पता नहीं होता है। वे अक्सर दर्द से कहराते रहते हैं लेकिन यह नहीं समझ पाते हैं कि उनकी हड्डी टूट गई है। आइए जानते हैं कुछ संकेतों के बारे में जो बताते हैं कि आपकी हड्डी टूट गई है।[ये भी पढ़ें:  हड्डी में फ्रेक्चर(Bone Fracture) को ठीक करने के लिए घरेलू उपचार]

Symptoms of a Broken Bone:  हड्डी टूट जाने के क्या संकेत होते हैं

  • सूजन आना
  • अंग का मुड़ना
  •  करकराहट की आवाज होना
  • चोट का रंग बदलना

1. सूजन आना- शरीर के किसी भी अंग की हड्डी टूट जाने पर उसमें सूजन आ जाती है। चोट लगने से फ्लूइड और खून रिस कर नरम टिशू में भर जाता है जिससे टिशू में सूजन आ जाती है। चोट लगने के बाद यदि किसी अंग में सूजन आ गई है और वह कम नहीं हो रही है तो समझ जाएं की आपकी हड्डी में फ्रैक्चर हो सकता है।

2. अंग का मुड़ना- अगर फ्रैक्चर काफी छोटा होता है तो अंग का आकार सामान्य रहता है। लेकिन जब हड्डी पूरी तरह से टूट जाती है तो उस अंग का आकार पूरी तरह विकृत हो जाता है। शरीर के किसी अंग का आकार थोड़ा या पूरी तरह से विकृति हो जाए तो संकेत बताता है कि आपकी हड्डी टूट गई है।

3. करकराहट की आवाज होना- यदि आप चलते समय पैर में करकराहट की आवाज को महसूस करते हैं तो यह आवाज आपकी हड्डी के टूटे हिस्सों की रगड़क की हो सकती है। ऐसे में चिकित्सक से परामर्श करके निश्चित कर लें की क्या आपकी हड्डी टूट गई है।

4. चोट का रंग बदलना- जिस अंग की हड्डी टूट जाती है उस स्थान पर केशिकाओं से दूर हो जाता है। टीशू के डैमेज होने से चोट का रंग बदल जाता है। चोट का रंग जितना बदला होता है फ्रैक्चर उतनी हा अधिक गहरी हो सकती है।

[जरुर पढ़ें: Spine Health: रोजाना की गलतियां जो रीढ़ की हड्डी को डैमेज कर सकती हैं]

चोट लगने के बाद इन संकेतों के दिखने पर डॉक्टर को जरुर दिखाएं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "