Reasons You Can’t Sleep: नींद ना आने के लिए जिम्मेदार स्वास्थ्य समस्याएं

Medical Reasons Why You Can’t Sleep

अगर आप पर्याप्त नींद नहीं ले पा रहे हैं इसके लिए स्वास्थ्य समस्याएं जिम्मेदार हो सकती हैं।

Reasons You Can’t Sleep: अगर आप रात को नींद लेने में परेशानी का सामना कर रहे हैं या सोते समय आपकी नींद बाधित हो रही हैं तो इसके पीछे कुछ मेडिकल कारण हो सकते हैं। बहुत से लोग अच्छी नींद ना लेने या नींद ना आने की शिकायत करते हैं। दिनभर के काम के बाद थकावट और तनाव को दूर करने के लिए आपको बेहतर नींद की बेहद जरुरत होती है। अगर आप पर्याप्त नींद नहीं ले पाते हैं तो आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। अगर आप सोच रहे हैं कि व्यस्त जीवन और काम की चिंता के कारण आपक नींद नहीं ले पा रहे हैं तो आपको फिर से सोचने की जरुरत है क्योंकि इसके लिए स्वास्थ्य समस्याएं भी जिम्मेदार हो सकती हैं। [ये भी पढ़ें: संकेत की आप पर्याप्त नींद ले रहे हैं]

Reasons You Can’t Sleep: स्वास्थ्य समस्याएं जो नींद ना आने का कारण हो सकती हैं

  • यूरिनरी इनकंटीनेंस(Urinary incontinence
  • माइग्रेन
  • मैग्नीशियम की कमी
  • अस्थमा
  • डिप्रेशन और एंग्जायटी

यूरिनरी इनकंटीनेंस(Urinary incontinence)
यूरिनरी इनकंटीनेंस या मूत्र असंयमिता ब्लैडर से जुड़ी एक समस्या है जिसेक दौरान ग्रस्त व्यक्ति पेशाब को रोकने में असमर्थ रहता है। इसके कारण आपको नींद लेने में परेशानी तो होती ही है साथ ही सोने पर आपकी नींद बाधित भी हो सकती है।

माइग्रेन

Reasons Why You Can't Sleep
अधिक देर तक जागे रहने से माइग्रेन और अधिक बढ़ सकता है।

माइग्रेन के लक्षण नींद लेने में होने वाली परेशानी का कारण हो सकते हैं। इस दौरान होने वाले सिर दर्द की वजह से आप सो नहीं पाते हैं और अधिक देर तक जागे रहने से माइग्रेन और अधिक बढ़ सकता है। इसलिए संतुलित आहार ले और हाइड्रेटेड रहें।

मैग्नीशियम की कमी

causes of insomnia
मैग्नीशियम बेहतर नींद लेने में मदद करता है।

मैग्नीशियम आपको तनाव कम करने, चिंता दूर करने, मूड को बेहतर करने और अच्छी नींद लेने में मदद करता है। इसकी कमी के कारण मांसपेशियों में तनाव, नर्व इरिटेबिलिटी, सेरोटोनिन के उत्पादन में कमी, और मांसपेशियों में ऐंठन आदि समस्याएं होती हैं जो आखिरकार आपकी नींद को बाधित करती हैं।

अस्थमा
क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज(Chronic obstructive pulmonary disease) जैसे अस्थमा अच्छी नींद लेने की प्रक्रिया को बाधित करता है। इसके अलावा सीओपीडी को ठीक करने में इस्तेमाल की जाने वाली दवाएं भी नींद नहीं आने का कारण हो सकती हैं। इस स्थिति में अपने डाक्टर से संपर्क करें।

डिप्रेशन और एंग्जायटी
डिप्रेशन और एंग्जायटी से ग्रस्त व्यक्ति के स्लीपिंग पैटर्न में अक्सर बदलाव देखने को मिलते हैं। रातभर जागने के अलावा अगर आपको अन्य लक्षण जैसे वजन बढ़ना या घटना, मनोदशा में बदलाव, आत्महत्या करने के ख्याल आदि दिख रहे हैं तो आपको थेरेपिस्ट या डॉक्टर से जांच करानी चाहिए।

[जरुर पढ़ें: हर रोज ज्यादा नींद कैसे लें]

ये कुछ स्वास्थ्य समस्याएं हैं जो आपकी कम नींद या नींद आने के पीछे का कारण हो सकती हैं। आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "