Physical Health:शारीरिक रुप से स्वस्थ ना होने से कौन सी समस्याएं होती है

Read in English
Consequences Of Poor Physical Health

शारीरिक रुप से स्वस्थ ना होने पर शरीर पर कई संकेत दिखते हैं।

शारीरिक स्वास्थ्य आपके द्वारा सेवन किए हुए भोजन से मिलने वाले पोषक तत्वों से संबंधित होता है। शरीर को मिलने वाले पोषक तत्वों की वजह से शरीर अच्छी तरह से काम कर पाता है। जब आप स्वस्थ भोजन के साथ शारीरिक गतिविधियां करते हैं तो इससे ना सिर्फ आपका वजन संतुलित रहता है, बल्कि गंभीर समस्याएं होने का खतरा भी कम होता है। इससे शारीरिक के साथ मानसिक रुप से भी आप स्वस्थ रहते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि शारीरिक रुप से स्वस्थ होने से मतलब पतला होना होता है। जिसकी वजह से वह पोषक तत्वों का सेवन करने की बजाय भूखा रहने लगते हैं। मगर यग गलत है शरीर के सही तरीके से कार्य करने के लिए पोषक तत्वों का सेवन जरुर होता है। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो कुछ स्वास्थ्य संबधी समस्याओं से ग्रसित हो जाते हैं। तो आइए आपको इन समस्याओं के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य से जुड़ी जानलेवा गलतियां जिनसे आपको दूरी बनानी चाहिए]

शारीरिक रुप(Physically) से स्वस्थ ना होने पर होने वाली समस्याएं

डायबिटीज(Diabetes)
डिप्रेशन(Depression)
हाई कोलेस्ट्रॉल(High cholesterol)
कार्डियोवॉस्कुलर डिजीज(Cardiovascular disease)
हाई ब्लड प्रेशर(Hypertension)

डायबिटीज:

side effect of poor health
शारीरिक रुप से स्वस्थ ना होने पर डायबिटीज हो सकती है।

प्रोसेस्ड फूड का सेवन, रिफाइंड शुगर और हाई-फैट डाइट का सेवन करने की वजह से डायबिटीज की समस्या हो जाती है। जब आप पोषक तत्वों का सेवन नहीं करते हैं तो डायबिटीज की समस्या हो जाती है। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जो डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद करते हैं]

डिप्रेशन:

side effect of poor health
शरीर के स्वस्थ ना होने की वजह से डिप्रेशन(Depression) की समस्या हो सकती है।

अपने वजन को लेकर लोगों के दिमाग के कई बातें चलती रहती हैं। वजन कम करने के लिए लोग इस तरह के खाद्य पदार्थों का सेवन करने लगते हैं जिसकी वजह से मानसिक समस्याएं होने लगती हैं। जो बाद में डिप्रेशन में बदल सकता है। इसके साथ ही लाइफस्टाइल में भी बदलाव की वजह से डिप्रेशन हो सकता है। [ये भी पढ़ें: बातें जो डिप्रेशन से ग्रसित व्यक्ति को कहनी चाहिए]

हाई कोलेस्ट्रॉल: हाई-फैट डाइट का सेवन करने की वजह से हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या हो सकती है। लाइफस्टाइल में बदलाव और घर पर खाना ना खाने की वजह से आप बाहर खाना खाने लगते हैं। इन खाद्य पदार्थों में शरीर में हाई-फैट की मात्रा बढ़ जाती है जिसकी वजह से हाई कोलेस्ट्रॉल हो जाता है। [ये भी पढ़ें: हाई कोलेस्ट्रॉल फूड खाने के बाद क्या करना जरुरी है]

कार्डियोवॉस्कुलर डिजीज: कम मात्रा पोषक तत्वों का सेवन, फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन ना करना और शारीरिक गतिविधियां ना करने की वजह से हृदय संबंधी समस्याएं होने की संभावना बढ़ जाती है। इससे रक्त कोशिकाओं में प्लैक बढ़ता जाता है जिसे हल्के में नहीं लेना चाहिए।

हाई ब्लड प्रेशर: ज्यादा मात्रा में चीनी, नमक, कैफीन और जंक फूड्स खाने की वजह से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है। कई बार हाई ब्लड प्रेशर के बारे में लोगों को पता नहीं चलता है जो आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

[जरुर पढ़ें: स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं जिनके कारण घट सकता है आपका वजन]

शारीरिक रुप से स्वस्थ ना होने पर कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। इस आर्टिकल को इंग्लिश(English) में भी पढ़ें।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "