Peppermint Oil: पिपरमिंट ऑयल के इस्तेमाल से क्या नुकसान हो सकते हैं

Read in English
side effects of peppermint oil

पिपरमिंट एक लाभकारी हर्ब जरुर है लेकिन इसका सीमित मात्रा में सेवन ना करने से यह हानिकारक हो सकता है।

Peppermint Oil: पिपरमिंट एक पौधा है जिसके पत्ते और तेल का इस्तेमाल औषधियां बनाने में किया जाता है। इसमें मौजूद औषधीय गुण इसे एक लाभकारी हर्ब बनाते हैं। इसका इस्तेमाल कई स्वास्थ्य समस्याओं में राहत पाने के लिए किया जाता है जैसे कोल्ड, खांसी, गले में सूजन, साइनस इंफेक्शन, रेस्पाइरेटरी इंफेक्शन आदि। हालांकि हर एक चीज का इस्तेमाल सीमित मात्रा में करना ही फायदेमंद होता है। किसी भी चीज की अधिकता आपके लिए हानिकारक हो सकती है। इसी तरह, पिपरमिंट ऑयल के अधिक इस्तेमाल से भी आपतो कुछ नुकसान झेलने पड़ सकते हैं। इसलिए इसका एक निश्चित मात्रा में ही उपयोग करें। आइए जानते हैं पिपरमिंट ऑयल के इस्तेमाल से क्या नुकसान हो सकते हैं। [ये भी पढ़ें: मांसपेशियों के दर्द को दूर करने के लिए पिपरमिंट]

Peppermint Oil: पिपरमिंट ऑयल के उपयोग से होने वाले नुकसान

  • अपाचन और जी जलना
  • स्किन रैश
  • सिर दर्द
  • मुंह में छाले
  • टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम करता है

अपाचन और जी जलना
आमतौर पर पिपरमिंट ऑयल का इस्तेमाल पाचन प्रक्रिया को बेहतर करने के लिए किया जाता है। इसमें डाइजेस्टिव सिस्टम को रिलैक्स करने के गुण होते हैं। लेकिन इसकी सही खुराक ना लेने के कारण या अधिक इस्तेमाल के कारण यह अपाचन का कारण बन सकता है। इसकी अनिश्चित मात्रा लेने से गैस्ट्रिक एसिड एसोफैगस की ओर वापस जाने लगते हैं जिससे सीने में जलन होती है।

स्किन रैश

how peppermint oil can badly affect you
पिपरमिंट ऑयल का अधिक इस्तेमाल स्किन रैश का कारण बन सकता है।

पिपरमिंट ऑयल का सही मात्रा में इस्तेमाल करने से त्वचा पर रैश की समस्या हो सकती है। इसलिए यह सलाह दी जाती है कि एक दिन में 0.4 मिली पिपरमिंट ऑयल का उपयोग करें ताकि आप त्वचा संबंधी समस्याओं से बच सकें।

सिर दर्द
पिपरमिंट के कारण लोगों को सिर दर्द व सिर घूमने की शिकायत हो सकती है। इसके पीछे की वजह पिपरमिंट ऑयल की अनिश्चित खुराक हो सकती है। इसलिए इसका सही मात्रा में ही इस्तेमाल करें। अगर आपको ये समस्या हो तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। [ये भी पढ़ें: एसेंशियल ऑयल की मदद से कैसे दूर करें सिर-दर्द]

मुंह में छाले
पिपरमिंट ऑयल में मेंथोल पाया जाता है इसलिए अगर आपको मेंथोल से एलर्जी है तो पिपरमिंट के इस्तेमाल से आपको मुंह में छाले होने की समस्या हो सकती है। इसके इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम करता है
पिपरमिंट ऑयल पुरुषों के रिप्रोडक्टिव सिस्टम पर भी बुरा असर करता है। 48 नर चूहों पर एक शोध किया गया जिसमें उन्हें पिपरमिंट का सेवन कराया गया। इस शोध के परिणामों में पाया गया कि जिन चूहों को पिपरमिंट दिया गया था उनमें टेस्टोस्टेरोन का स्तर गिरा है। इसलिए पिपरमिंट ऑयल का इस्तेमाल केवल बताई गई मात्रा में ही करें।

[जरुर पढ़ें: पेट की समस्या में कारगर पुदीने के अन्य स्वास्थ्य लाभ]

ये कुछ दुष्प्रभाव हैं जो पिपरमिंट के अधिक इस्तेमाल से हो सकते हैं। इसलिए केवल उचित और सीमित मात्रा में ही इसका इस्तेमाल करें। आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "