आपका कान आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या बताता है

Read in English
Things Your Ears Are Trying To Tell You about your health

क्या आपने कभी भी एक मिनट के लिए अपने कानों के बारे में सोचा है। अगर नहीं, तो आपको सोचना चाहिए। आपके कान आपको ना केवल सुनने में मदद करते हैं बल्कि ये आपके दिमाग को आपके सिर की स्थिति के बारे में भी सूचित करता है। साथ ही ये आपके स्वास्थ्य के बारे में भी आपको कई तरह की बातें बता सकते हैं। कान में उतपन्न होने वाला ईयर वैक्स और आपके कान कैसे दिख रहे हैं इससे आपके स्वास्थ्य स्थिति को लेकर कई संकेत मिल सकते हैं। कानों से जुड़ी एक छोटी सी भी लापरवाही आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है, तो इसलिए आपको सतर्क रहने की जरूरत है। आइए जानते हैं आपका कान आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या बताता है। [ये भी पढ़ें: हैंगओवर उतारने के लिए आसान टिप्स]

साइनस इंफेक्शन:
साइनस इंफेक्शन होने के कारण आपका कान प्रभावित हो सकता है। वायरस जो राइवोवायरस ग्रुप से जुड़ा हुआ होता है उसी की वजह से साइनस इंफेक्शन की समस्या हो जाती है। इस इंफेक्शन के कारण कान में दर्द, कान का बंद होना या फिर जलन होने जैसी समस्या होने लगती है। इस समस्या को नेजल सलाइन स्प्रे या फिर इन्हेलर की मदद से दूर की जा सकती है।

थ्रोट इंफेक्शन:
कुछ बैक्टीरिया और वायरस के कारण थ्रोट इंफेक्शन की समस्या हो सकती है। इसकी वजह से एलर्जी भी हो सकती है। कान में होने वाला इंफेक्शन या फिर दर्द थ्रोट इंफेक्शन की जटिलताओं को बढ़ावा देता है। इसके अलावा थ्रोट इंफेक्शन की वजह से टॉन्सिल, लिम्फ नोड्स में सूजन या फिर सूजन हो सकती है। [ये भी पढ़ें: अजीब चीजें जो आपको बेहतर नींद दिला सकती हैं]

चेचक या खसरा:
चेचक या खसरा एक गंभीर वायरल बीमारी है। वायरस श्वसन प्रणाली को प्रभावित करता है और बेहद संक्रामक होता है। यह मुख्य रूप से हवा के माध्यम से फैलता है। जब संक्रमित व्यक्ति छींकता या खांसी करता है तो आप संक्रमित बलगम और लार से संपर्क के माध्यम से संक्रमण बढ़ सकता है। चेचक आपके कान को भी प्रभावित करता है, तो इस समस्या को कभी भी अनदेखा नहीं करना चाहिए।

हार्मोनल असंतुलन:
यह आपको आश्चर्यचकित कर सकता है कि आपके हार्मोन के स्तर में बदलाव कान-संबंधित समस्याओं को भी पैदा कर सकता है। कुछ हार्मोन संबंधी समस्याएं जैसे थाइरॉइड पुरुषों और महिलाओं में हो सकती हैं। हालांकि, महिलाओं में हार्मोनल असंतुलन होने के कारण कान प्रभावित हो सकता है। [ये भी पढ़ें: विटामिन बी-3 का सेवन शरीर के लिए क्यों लाभकारी है]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "