दस्त के दौरान ब्रेड का सेवन कैसे इसे प्रभावित करता है

Read in English
The Effect Of Bread On Loose Motions

ब्रेड के अनेकों प्रकार आते हैं जितका सेवन कई बार स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। हर रोज ब्रेड का सेवन करने से स्वास्थ्य को कई नुकसान होते हैं जैसे ब्लड शुगर का बढ़ना, सीलिएक डीजिज, फ्रुक्टोज का ज्यादा सेवन करना, उच्च कैलोरी वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना या कोलेस्ट्रोल का बढ़ जाना। इसके अलावा ब्रेड में होने वाले बैक्टीरिया और वायरस पेट से जुड़ी समस्याओं को भी बढ़ावा देते हैं, खासतौर पर दस्त की समस्या। ये बॉवेल मूवमेंट को खराब कर देता है जिससे पाचनक्रिया भी प्रभावित होती है। आइए जानते हैं दस्त के दौरान ब्रेड का सेवन कैसे इसे प्रभावित करता है।  [ये भी पढ़ें: सूखे मेवे खाने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ]

ग्लूटेन मौजूद होता है:
आटा में इस्तेमाल किया जाने वाला अनाज प्रोटीन का मिश्रण होता है जिसे ग्लूटेन कहा जाता है। अनाज के एन्डोस्पर्म में स्टार्च के साथ ग्लूटेन मौजूद होता है। ग्लूटेन को जब शरीर पचाता है, तो डाइजेस्टिव वॉल ट्रैक्ट में जलन होती है। इसे ग्लूटेन इन्टॉलरेन्स या सीलिएक डीजिज कहा जाता है। यह हमारे शरीर में पोषक तत्वों के अवशोषण के लिए जिम्मेदार होता है। जब यह सही से काम नहीं करता है तो यह पेट दर्द, शरीर की सूजन और बॉवेल मूवमेंट के खराब होने की ओर संकेत करता है।

फाइटिक एसिड होता है:
ग्रेन्स में फाइटिक एसिड नामक एंटी-न्यूट्रिएंट होता है। इसका प्रभाव ग्लूटेन की तरह ही होता है और जीन्क और कैल्शियम जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को अवशोषित करता है। यह बॉवेल में जलन पैदा करता है और दस्त की समस्या को बिगाड़ता है।  [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते है कि आपका नर्वस सिस्टम सही तरीके से काम नहीं कर रहा है]

फाइबर उच्च मात्रा में होता है:
ब्रेड एक फाइबर युक्त भोजन होता है। फाइबर ही एक पदार्थ है जिसको पचाना थोड़ा मुश्किल होता है और इसका सेवन ज्यादातर वजन कम करने की प्रक्रिया के दौरान किया जाता है। जब बॉवेल में जलन होती है, फाइबर शरीर में पानी के साथ गठबंधन करता है, जिसके कारण आपकी दस्त की समस्या बढ़ जाती है।

स्टार्च होता है:
ब्रेड में स्टार्च होता है। यह स्टार्च बहुत आसानी से शरीर द्वारा ब्रेकडाउन करता है, जिससे रक्त शर्करा के स्तर में तेजी से वृद्धि हो सकती है। इससे आपको जल्दी भूख लगने लगती है और इसलिए आप हाई-कार्ब वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं। ब्रेड का सेवन करने से उसमें होने वाले उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) के कारण गैस की समस्या होती है और आपका दस्त बिगड़ जाता है। [ये भी पढ़ें: डेयरी उत्पादों को दूषित होने से कैसे बचाएं]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "