संकेत जो बताते हैं कि आप गलत गद्दे पर सो रहे हैं

Read in English
signs you are sleeping on a bad mattress

जिस तरह से एक खराब कॉफी आपकी सुबह को खराब कर देती है ठीक उसी तरह एक खराब गद्दे पर सोने से नींद पर प्रभाव पड़ता है। गलत गद्दे पर सोने से कमर, गर्दन में दर्द के साथ, जुकाम और आपकी नींद प्रभावित होती है। अगर इस तरह की कई चीजें आपके साथ होती हैं तो आपको समझ जाना चाहिए कि आप गलत गद्दे पर सो रहे हैं। सही तरीके से सोने में आपका गद्दा एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अगर गद्दा नरम ना हो और आपको असहज महसूस होता है तो नींद की क्वालिटी प्रभावित होती है। तो आइए आपको कुछ संकेतों के बारे में बताते हैं जिससे पता चलता है कि आपका गद्दा सही नहीं है। [ये भी पढ़ें: सर्दी-जुकाम से लड़ने के लिए खाद्य पदार्थ]

नाक का बंद हो जाना: जब भी आप सोकर उठते हैं तो आपकी नाक बंद हो जाती है। ऐसा गद्दे में मौजूद धूल-मिट्टी की वजह से होता है। कुछ साल गद्दे का इस्तेमाल करने से उसमें धूल-मिट्टी, बैक्टीरिया और अन्य माइक्रोब्स एकत्रित हो जाते हैं जिससे बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है। यह समय होता है कि आपको गद्दा बदल लेना चाहिए।

कमर दर्द: कमर में दर्द होने के पीछे कई कारण होते हैं चोट लगने की वजह से लेकर गद्दा ठीक ना होना कमर दर्द का कारण होता है। हल्की क्वालिटी के गद्दे और सही पोजीशन में ना सोने की वजह से कमर में खिंचाव आ जाता है। एक अच्छे और सहज गद्दे की मदद से सोने में आराम मिलता है और कमर दर्द भी ठीक हो सकता है। [ये भी पढ़े: बालों की परेशानियां जो शरीर की कुछ बीमारियों की तरफ करती है संकेत]

त्वचा संबंधी समस्याएं: नींद पूरी ना होने की वजह से व्यक्ति के शरीर में तनाव संबंधित हार्मोन कोर्टिसोल बढ़ने लगता है। जिसकी वजह से झुर्रियों, सूजन और त्वचा बेजान लगने लगती हैं और एक्जिमा जैसी त्वचा संबंधी समस्याएं होने लगती हैं। इसलिए अगर आपको गद्दे पर असहज महसूस हो रहा है साथ ही आपकी नींद प्रभावित हो रही है तो गद्दे को बदलने का समय आ गया है।

मोटापा: जिन लोगों की रात को नींद नहीं पूरी हो पाती है और अक्सर रात को जाग जाते हैं उनके मोटा होने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसा शरीर में ऊर्जा की कमी होने के कारण होता है और आप ज्यादा खाने लगते हैं। अगर आपको दिन में ज्यादा भूख लगती है और शारीरिक गतिविधियां नहीं बढ़ती है तो इसका कारण आपका गद्दा हो सकता है इसलिए गद्दा बदल दें।

लिबिडो को कम करता है: जितना कम आप सोते हैं उतनी ही आपकी सेक्स ड्राइव कम होती है। नींद की कमी का आपकी सेक्स ड्राइव पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और पुरुषों में टेस्टेस्टेरोन हार्मोन का लेवल कम हो जाता है। [ये भी पढ़ें: किन लोगों को ब्लड क्लॉट होने की संभावना अधिक होती है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "