पैसिव स्मोकिंग के हानिकारक दुष्प्रभाव

Side Effects Of Secondhand Smoke (Passive Smoking) On Your Health

पैसिव स्मोकिंग स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक होती है। इसमें आपको दूसरे की गलती का परिणाम भुगतना पड़ता है। अगर आप धूम्रपान नहीं करते फिर भी आपको उसके बुरे परिणाम झेलने पड़ते हैं।

क्या होती है पैसिव स्मोकिंग: तंबाकू युक्त किसी पदार्थ के जलने से उससे निकले धुएं से या किसी के धूम्रपान करने से उससे निकले धुंए का सांस के माध्यम से आपके शरीर में प्रवेश करना पैसिव स्मोकिंग कहलाता है। इससे आप ना चाहते हुए भी तंबाकू के हानिकारक गुणों की चपेट में आ जाते हैं। आइए जानते हैं इसके कुछ साइड इफेक्ट्स के बारे में। [ये भी पढ़ें: ध्वनि प्रदूषण से शरीर पर पड़ने वाले नकारात्मक प्रभाव]

पैसिव स्मोकिंग(निष्क्रिय धूम्रपान) के शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव:

 1. दिल की बीमारियों का रहता है खतरा: पैसिव स्मोकिंग से कार्डियोवेस्कुलर सिस्टम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसका धुंआ रक्त की धमनियों पर कार्टिसोल जमा कर देता है जिससे रक्त प्रवाह अवरोधित हो जाता है इससे गंभीर बीमारी होने का खतरा पैदा हो जाता है। इससे दिल का दौरा भी पड़ सकता है इसलिए पैसिव स्मोकिंग से दूर रहने का प्रयास करें।[ये भी पढ़ें: विटामिन बी-12 की कमी के दौरान दिखने वाले संकेत]

2.छोटे बच्चों के लिए हानिकारक: माता-पिता को अपने बच्चों को सिगरेट के हानिकारक धुएं से दूर रखना चाहिए। बच्चों के फेफड़े अधिक संवेदनशील होते हैं इससे उन्हें ब्रोकाइटिस, संक्रमण, खांसी, अस्थमा का अटैक होने से गंभीर बीमारी हो सकती है।

3.गंभीर रुप से कर सकता है बीमार: 

side-effects-of-passive-smoking-on-your-healthपैसिव स्मोकिंग से एलर्जी और संक्रमण जैसी छोटी बीमारियों से लेकर अस्थमा और फेफड़ों की गंभीर बीमारी भी आपको पैसिव स्मोकिंग के कारण हो सकती है। इसलिए सिगरेट, हुक्के और बीड़ी आदि के तंबाकू युक्त धुंए से दूर रहना ही फायदेमंद होता है।

4..गर्भपात का डर: पैसिव स्मोकिंग का सबसे बड़ा दुष्प्रभाव तब होता है जब गर्भवती मां के शरीर में ये धुंआ लगातार पहुंचता है। इससे सडन इन्फेंट डेथ सिंड्रोम होने का खतरा रहता है, जिससे गर्भपात होने की आशंका रहती है। इसलिए गर्भवती महिला को इससे दूर रहना चाहिए।[ये भी पढ़ें: एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर खाद्य पदार्थों को करें आहार में शामिल]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "