दिल की धड़कने बढ़ने के पीछे क्या कारण हो सकते हैं

Reasons why your heart is beating fast

दिल का मुख्य काम पंप करना होता है जिसे हम हार्टबीट या धड़कन कहते हैं। दिल पंप करते हुए शरीर के बाकी हिस्सों में रक्त पहुंचाता है जिसके जरिए हमारे शरीर के सभी अंगों को काम करने के लिए ऑक्सीजन मिलती है। सामान्य तौर पर एक स्वस्थ व्यक्ति का दिल प्रति मिनट 60 से 100 बार की दर पर धड़कता है। इससे अधिक गति होने की स्थिति को टैकीकार्डिया कहते हैं जिसके दौरान आपका दिल सामान्य से अधिक तेज धड़कता है। इस दौरान अधिकतर लोगों को सबसे पहले यही लगता है कि उन्हें दिल का दौरा पड़ने वाला है। हालांकि ऐसा नहीं होता। अगर आपका दिल सामान्य दर से तेजी से धड़क रहा है तो इसके पीछे दिल का दौरा नहीं बल्कि अन्य कई कारण हो सकते हैं। आइए जानते हैं दिल की धड़कने बढ़ने के पीछे क्या कारण हो सकते हैं। [ये भी पढ़ें: चीजें जिनके अधिक सेवन से आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है]

आप तनाव में हैं
जब आप किसी ऐसी स्थिति में होते हैं जो कि आपको तनाव दे रही है, तो आपका सिंपेथेटिक नर्वस सिस्टम और एडरनल ग्लैंड्स एक नोरेपिनफ्रिन का स्राव करता है जिसे एड्रेनालाईन के रूप में भी जाना जाता है। इसके कारण आपके दिल में मौजूद रिसेप्टर्स इस हार्मोन का जवाब देते हैं जिसके कारण आपकी दिल की धड़कन की दर बढ़ जाती हैं।

बुखार या सर्दी-जुकाम
अगर आप बुखार या सर्दी-जुकाम से ग्रस्त हैं तो इस स्थिति में भी अधिक तापमान, खांसने और छींकने के कारण आपका दिल सामान्य से ज्यादा दर पर धड़कता है। शरीर में मौजूद इंफेक्शन से लड़ने के लिए आपके शरीर के हर किसी हिस्से को अधिक प्रभावी तरीके से काम करना पड़ता है जिससे आपका दिल भी अधिक तेजी से धड़कता है। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपको आंखों का टेस्ट कराना चाहिए]

कैफीन का सेवन
दिल का तेज धड़कना कई बार सामान्य कारणों से भी होता है। अगर आप दिल सामान्य से तेजी से धड़क रहा है तो इसका कारण कैफीन हो सकता है। हो सकता है कि आपने हाल ही में कॉफी का सेवन किया हो। कैफीन उत्तेजक की तरह काम करता है। यह आपके नर्वस सिस्टम को उत्तेजित कर देता है जिसके कारण दिल की धड़कन में वृद्धि हो सकती है।

पैनिक अटैक
अगर आपको लग रहा है कि आपका दिल काफी तेजी से धड़क रहा है तो इसके पीछे का एक कारण पैनिक अटैक भी हो सकता है। इस दौरान आपको दिल की धड़कन तेज होने के अलावा शरीर का कांपना, पसीना आना आदि अन्य संकेत दिख सकते हैं।

एनीमिया की समस्या
एनीमिया की समस्या आयरन की कमी के कारण होती है जिसके दौरान आपका शरीर पर्याप्त मात्रा में लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण नहीं कर पाता है। एनीमिया से ग्रस्त लोग कई बार दिल की धड़कने बढ़ने की स्थिति का अनुभव करते हैं। [ये भी पढ़ें: पसीना आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या बताता है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "