पब्लिक टॉयलेट सीट पर टॉयलेट पेपर क्यों नहीं रखना चाहिए

Read in English
Reasons Why not put toilet paper on public toilet seat

पब्लिक टॉयलेट का उपयोग करना सबसे कई बार आवश्यक हो जाता है। जरूरत करने पर हमें पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करना आवश्यक हो जाता है। पब्लिक टॉयलेट बैक्टीरिया और फंगस इंफेक्शन से भरे हुए होते हैं क्योंकि बहुत से लोग इसका प्रयोग करते हैं। आमतौर पर, यह सलाह दी जाती है कि इंडियन टॉयलेट वेस्टर्न टॉयलेट से ज्यादा सुरक्षित होता है। इंडियन टॉयलेट सीट का इस्तेमाल करने से किसी व्यक्ति की त्वचा सीधे टॉयलेट के संपर्क में नहीं आती है। इस प्रकार इंफेक्शन होने का खतरा कम हो जाता है। [ये भी पढ़ें: रबिंग एल्कोहल से होते हैं कई फायदे]

चाहे कितनी अच्छी तरह लोगों को शिक्षित किया जाए, फिर भी वे टॉयलेट गंदा ही छोड़ देते हैं। यह यूटीआई, पीलिया, शरीर में संक्रमण, टाइफॉयड आदि जैसी गंभीर समस्याएं पैदा कर सकता है। बहुत से लोग टॉयलेट रोल से टॉयलेट सीट को कवर करते हैं और फिर इसका इस्तेमाल करते हैं। हालांकि हम भूल जाते हैं कि ऐसा करने से हम इंफेक्शन के खतरे को बढ़ा सकते हैं।

आइए जानते हैं कि टॉयलेट पेपर से टॉयलेट सीट को कवर करना क्यों सुरक्षित होता है:

टॉयलेट पेपर में अधिक कीटाणु होते हैं: टॉयलेट पेपर कीटाणुओं से भरे होते हैं जो त्वचा को आसानी से पकड़ सकते हैं। अगर आपको लगता है कि टॉयलेट पेपर से सीट को कवर करने से कीटाणुओं से बचा जा सकता हैं तो ऐसा बिल्कुल भी ना सोचें। बल्कि इससे आप और उन्हें बुलावा देते हैं। [ये भी पढ़ें: इन संकेतों से होती है शरीर में प्रोटीन की कमी की पहचान]

टॉयलेट में टॉयलेट पेपर सुरक्षित नहीं होता है: छिड़काव के बाद जब आप फ्लश करते हैं तो टॉयलेट में जर्म्स और बैक्टीरिया फैल जाते हैं। वे टॉयलेट पेपर, सीट, दरवाज़े के हैंडल और सभी संभव स्थानों पर चिपक जाते हैं। साथ ही वो जर्म्स और बैक्टीरिया भी टॉयलेट पेपर पर बैठ जाते हैं जो आपकी त्वचा पर इंफेक्शन बढ़ा सकता है।

हालांकि, इसके लिए एक विकल्प है। आप टॉयसेट में अपने खुद के टॉयलेट पेपर रोल को ले जा सकते हैं ताकि टॉयलेट में पहले से मौजूद रोगाणुओं से आप बच सकें। बहुत से ऐसे पब्लिक टॉयलेट होते हैं जहां टॉयलेट पेपर को प्लास्टिक से कवर किया जाता है। ऐसा करने से जर्म्स और बैक्टीरिया से टॉयलेट पेपर को बचाया जा सकता है। किसी भी अन्य संक्रमण से बचने के लिए घर लौटने के बाद आपको अपने आप को अच्छी तरह से धोना चाहिए। [ये भी पढ़ें: केले का सेवन करना कैसे अच्छी नींद के फायदेमंद होता है]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "