कारण जिनसे आपकी आंखों में बार-बार पानी आता रहता है

Read in English
reasons that our eyes keep on watering so often

Picture credit: theralife.com

आंखों में पानी आना लोगों की परेशानी का एक सबसे बड़ा कारण होता है। इसकी वजह से ना सिर्फ आंखों में खुजली होती है बल्कि ये आपके दिनचर्या को भी प्रभावित करता है। आंखों में पानी आने के और भी कई कारण होते हैं। आंखों में कुछ चले जाने से या फिर किसी तरह के इंफेक्शन के कारण भी आंखों से लगातार पानी आते रहता है। यह पानी आंखों में फैलता हुआ आंसू नलिकाओं के माध्यम से बाहर निकलता है। इसके अलावा अधिक तनाव होने से या फिर लंबे समय तक स्क्रिन पर देखने से भी आंखों से पानी आने लगता है। अगर आप लंबे समय से इस समस्या से ग्रसित हैं तो आपको इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए वरना हो सकता है इसकी वजह से आपकी आंखों की रोशनी भी कम हो सकती है। आइए जानते हैं कारण जिनसे आपकी आंखों में बार-बार पानी आता रहता है। [ये भी पढ़ें: बालों की समस्याएं दूर करने के लिए करें अमरुद की पत्तियों का इस्तेमाल]

वातावरण में बहुत ज्यादा सूखापन होना:
जब मौसम में अत्यधिक सूखापन होता है तो यह अक्सर आंखों की समस्या का कारण बनता है। मौसम में सूखापन होने की वजह से त्वचा और आंखों की नमी कम हो जाती है। ऐसे में लैक्रिमल ग्लैंड का उत्पादन होना शुरू हो जाता है जिसे रिफ्लेक्स टियर्स के नाम से जाना जाता है। यहां तक कि अगर हम एक लंबे समय के लिए एक वातानुकूलित कमरे में बैठते हैं तो हम अक्सर इस समस्या का सामना करते हैं।

आंखों पर अत्यधिक तनाव होना:
जब हम कम्प्यूटर स्क्रीन पर लंबे समय तक देखते हैं तो इसकी वजह से आपकी आंखों में पानी आने लगती हैं। आंखों पर दबाव पड़ता है जिसकी वजह से आंखों का थकान बढ़ जाता है और इस वजह से पानी आने लगता है। इसलिए यह अक्सर सलाह दी जाती है कि जबभी आप लैपटॉप या कंप्यूटर स्क्रीन पर लगातार देख रहे होतें हैं तो बार-बार पलकें झपकाएं। [ये भी पढ़ें: रात को की जाने वाली गलतियां जो आपकी उम्र को बढ़ाती हैं]

कॉन्टैक्ट लेंस की वजह से:
जब आप अपने कॉन्टैक्ट लेंस को लंबे समय तक पहनते हैं तो आपकी आंखों में सूखापन आ जाता है। कॉन्टैक्ट लेंस सभी प्राकृतिक नमी को आंखों से कम कर देता है। ऐसे में डॉक्टर से परामर्श करना आवश्यक होता है और लेंस को हर कुछ समय में बदलते रहना चाहिए। इसके अलावा 8 घंटे से अधिक लेंस नहीं पहनें।

मेकअप की वजह से:
जब आप बहुत अधिक मेकअप करते हैं तो आपको आंखों से पानी आने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। कभी-कभी आंखों का मेकअप करते वक्त कुछ गलतियां हो जाती हैं जिसकी वजह से आंखों में पानी आता है।

स्लीप एपनिया की समस्या:
स्लीप एपनिया एक ऐसी समस्या होती है जिसमें आप सोते वक्त बहुत तेज सांस लेते हैं या फिर खर्राटे भी लेते हैं। इसके कारण ब्लड प्रेशन और मोटापा भी बढ़ जाता है। इस स्थिति में हमारी ऊपरी पलक काफी लचीली हो जाती है और आंखों सूखी हो जाती हैं। इस वजह से आंखों से पानी आने लगता है। [ये भी पढ़ें: फोन आपकी त्वचा को कैसे प्रभावित करता है]

 

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "