नवरात्रि स्पेशल: व्रत के दौरान डिनर में क्या आहार खाएं

Read in English
navratri special what to eat in dinner during fasting

Pic Credit: restaurantsireland.ie

नवरात्रि में अधिकतर लोग पूरे नौ दिन के लिए उपवास करते हैं। देवी मां के इन पावन नौ दिनों में व्रत रखने वाले लोगों का सात्विक और शुद्ध भोजन करना होता है। इसी कारण लोगों के पास आहार में बहुत ही कम विकल्प होते हैं। नवरात्रि के दौरान व्रत रखने के नियम हर जगह अलग-अलग हो सकते हैं, लेकिन यह जरुरी है कि आप सभी स्वस्थ आहार का सेवन करें। व्रत के दौरान अगर आप ख़ुद को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो सही और पर्याप्त आहार का चयन करना जरुरी है। जब आप व्रत के दौरान आहार की बात कर रहे हैं तो आप इसके लिए की ऐसे व्यंजन आजमां सकते हैं जो सात्विक है और स्वस्थ भी। आइए जानते हैं कि आप व्रत के दौरान डिनर में क्या आहार ले सकते हैं। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: व्रत के दौरान नाश्ते में क्या खाना होगा बेहतर]

राजगीरा पनीर पराठा: 

navratri special what to eat in dinner during fasting
Pic Credit: i2.ytimg.com/vi/RWa03VmJYA0/0.jpg

कूटु की तरह की राजगीरा आटा भी व्रत के दौरान सामान्य तौर पर खाया जाने वाला खाद्य पदार्थ है। राजगीरे का आटा आलू के साथ गूथा जाता है इसलिए इससे बनी रोटी या पराठा काफी क्रिस्प साथ ही मुलायम होती है। राजगीरे के आटे में विटामिन सी, पोटेशियम, मैग्निशियम और प्रोटीन मौजूद होते हैं। इसके सेवन से आपको पोषण भी मिलता है।

कूटु का डोसा: नवरात्रि में व्रत के दौरान अधिकतर आप कुटू की पूरी या पराठे बनाना पसंद करते हैं लेकिन इस बार आप कुछ अलग आजमां सकते हैं। जिस तरह सादा डोसा बनता है वैसे ही आपको कूटु का डोसा बनाना है। इसमें आपको तेल कम लगाना होगा और साथ ही कूटु के पोषक तत्वों का फायदा भी मिलता है। [ये भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल: दूसरे दिन देवी ब्रह्मचारिणी की पूजा का महत्व]

आलू की कढ़ी: आप सब्जी के तौर पर डिनर के लिए आलू की कढ़ी बना सकते हैं। यह काफी हल्की होती है, साथ ही आलू आपके दिनभर के व्रत के बाद पोषण की पूर्ति करता है। आलू में पोटेशियम, एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन सी, मैग्नीज और डाइटरी फाइबर मौजूद होते हैं।

सम्वत खिचड़ी: समा के चावलों की बनी खिचड़ी भी आप रात के खाने में शामिल कर सकते हैं। व्रत में इस्तेमाल किए जाने वाले समा के चावल और आलू से इस खिचड़ी को बनाया जाता है। यह रात के नजरिए से काफी हल्का आहार है जिसे आपका शरीर आसानी से पचा सकता है।

सिंघारे के आटे का हलवा: व्रत के दौरान सिंघाड़े के आटे का इस्तेमाल आमतौर पर किया जाता है। सिंघाड़े के आटे का हलवा काफी आसानी से और कम समय में बनाया जा सकता है। इस स्वीट डिश को आप डिनर में शामिल कर सकते हैं। सिंघाड़े में एंटी-ऑक्सीडेंट्स, मैंग्नीज, सिट्रिक एसिड, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं। [ये भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: कूटु के आटे का सेवन कैसे है फायदेमंद]

Tags: navratri special in hindi
उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "