Ear cleaning mistakes to avoid: घर पर कान साफ करते वक्त कौन सी सावधानियां बरतें

Ear Wax Tips, Safe Ways To Clean Your Ear

Ear cleaning mistakes to avoid: कान साफ करते वक्त कौन सी सावधानी रखें

Ear cleaning mistakes to avoid: ईयरवैक्स शरीर के कार्यों को धीमा कर देता है। चबाते वक्त और जौ के मूवमेंट होते वक्त ईयरवैक्स कैनाल के जरिए कान के बाहरी हिस्से में आ जाता है। जब ईयरवैक्स और डेड स्किन कान के बाहरी हिस्से में जमा हो जाता है तो वो कान को रूखा बना देता है। हालांकि ईयरवैक्स में एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है जो कानों को इंफेक्शन से बचाता है। कान को अधिक साफ करने के कारण वह रूखे हो जाते हैं और कान में खुजली भी पैदा कर देते हैं। कॉटन स्वैब से ईयरवैक्स साफ करने से वो और अंदर चले जाते हैं। कान साफ करते वक्त लोग कई ऐसी गलतियां कर देते हैं जिसके कारण कान का स्वास्थ्य प्रभावित होता है। लेकिन कई लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि कान को साफ करते वक्त वो कौन सी गलतियां करते हैं। [ये भी पढ़ें: Remedies for Itchy Ears: कान में होने वाली खुजली को दूर करने के घरेलू उपाय]

Ear cleaning mistakes to avoid: कान साफ करते वक्त क्या गलतियां करने से बचें

  • कान को हर समय साफ करना
  • शार्प चीजें कान में डालना
  • केमिकल का इस्तेमाल करना
  • गर्म तेल डालना
  • कान का अंगुली डालना

कान को हर समय साफ करना:
कान को माइक्रोब्स और अन्य बैक्टीरिया और कीटाणुओं से बचाने के लिए ईयरवैक्स की आवश्यकता होती है। ऐसे में यदि आप हर वक्त कान को साफ करते हैं तो इससे आपके कान का स्वास्थ्य प्रभावित होगा और आपको इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाएगी।

शार्प चीजें कान में डालना:

How to Clean Your Ears
Ear cleaning mistakes to avoid: शार्प चीजों से कान साफ नहीं करें

शार्प चीजें जैसे- नाखून, चाबी, पिन्स या मैचस्टिक कान में डालने से ईयरड्रम को नुकसान पहुंच सकता है और आपकी सुनने की क्षमता भी कम हो सकती है। इसलिए कभी भी कान में को साफ करने के लिए इन चीजों का इस्तेमाल ना करें।

केमिकल का इस्तेमाल करना:
कान साफ करने के लिए अधिक केमिकल का इस्तेमाल करना कान को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा अधिक हाईड्रोजन पेरॉक्साइड का इस्तेमाल कान में खुजली को भी बढ़ाते हैं।

गर्म तेल डालना:
कान में गर्म तेल डालने से कान की त्वचा जल सकती है। इसलिए कान साफ करने के लिए हल्के गुनगुने तेल का इस्तेमाल करना बेहतर साबित हो सकता है।

कान का अंगुली डालना:
कान में हमेशा अंगुली डालने से नाखून में मौजूद बैक्टीरिया कानों में इंफेक्शन होने की संभावना को बढ़ाते हैं। अगर आप डाइबेटिक होते हैं तो इंफेक्शन होने की संभावना अधिक हो जाती है। इसलिए कान में अंगुली डालना छोड़ दें।  [ये भी पढ़ें: आदतें जो आपके कानों के लिए हो सकती हैं हानिकारक]

कान साफ करना आवश्यक होता है लेकिन जरूरत से ज्यादा कान साफ करने से कान का स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "