पेट के बैक्टीरिया कैसे आपके वजन को प्रभावित करते हैं

Read in English
how your gut bacteria affects your weight

मनुष्य के शरीर में करोड़ों की संख्या में बैक्टीरिया होते हैं। जिनमें से अधिकतर बैक्टीरिया व्यक्ति के पेट और बड़ी आंत में पाये जाते हैं। ये बैक्टीरिया शरीर के लिए काफी महत्वपूर्ण होते हैं और ये आपके इम्यून सिस्टम को संक्रमण से लड़ने के लिए प्रेरित करते हैं। इसके अलावा ये बैक्टीरिया विटामिन K को भी पैदा करते हैं। यह माना जाता है कि एक 70 किलो के व्यक्ति में लगभग 40 खरब बैक्टीरियल कोशिकाएं और 30 खरब मानव कोशिकाएं होती है। पेट के बैक्टीरिया पाचन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।यह खाने को पचाते हैं और पेट को भरा हुआ रखते हैं। ये बैक्टीरिया केमिकल पैदा करते हैं जिससे बार-बार भूख नहीं लगती है ये बैक्टीरिया ही वजन को कम करने और बढ़ाने में मदद करते हैं।[ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थ जो पकने के बाद हानिकारक हो सकते हैं]

1.पेट के बैक्टीरिया कैसे खाने को पचाने में मदद करता है: गुड बैक्टीरिया जो कि आंत में पाए जाते हैं वे खाने के संपर्क में आने पर पोषक तत्वों को अवशोषित कर लेते हैं और शरीर में ऊर्जा को संचित कर लेते हैं। खाने में मौजूद पेट के बैक्टीरिया फाइबर को पचा लेते हैं जिससे वजन कम करने की प्रक्रिया में तेजी होती है।

2.पेट के बैक्टीरिया सूजन को प्रभावित करते हैं: अनहेल्दी खाद्य पदार्थों के सेवन और संक्रमण के कारण शरीर में सूजन आ जाती है। पेट के बैक्टीरिया लिपो पॉली सैकेराइड(एलपीएस) जैसा केमिकल पैदा करते हैं एलपीएस सूजन को बढ़ाता है और इससे वजन बढ़ता है। [ये भी पढ़ें: विटामिन-के युक्त खाद्य पदार्थ और उनके स्वास्थ्य लाभ]

3.पेट के बैक्टीरिया भूख लगने वाले केमिकल पैदा करते हैं: लेप्टिन और घ्रेलिन जैसे हार्मोन भूख को बढ़ाते हैं। पेट के बैक्टीरिया इन हार्मोन्स को पैदा करने में मदद करते हैं। आपको भूख लगने या ना लगने के पीछे पेट के बैक्टीरिया महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। भूख को प्रभावित करके ये बैक्टीरिया वजन को घटाने और बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

पेट के बैक्टीरिया के लिए कौन से खाद्य पदार्थ उपयोगी होते हैं: फल, सब्जियां आदि खाद्य पदार्थ पेट में अच्छे बैक्टीरिया की मात्रा को बढ़ाने के लिए उपयोगी होते हैं। शुगर और अनहेल्दी फैट युक्त खाद्य पदार्थ पेट के बैक्टीरिया के लिए हानिकारक होते हैं इसलिए इस तरह के खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए। [ये भी पढ़ें: शरीर में किस तरह के दर्द को अनदेखा ना करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "