सर्दियों के मौसम में खुद को स्मॉग से कैसे बचाएं

Read in English
how to protect yourself from smog in winters

photo credit: pinterest.com / notey.com

सर्दियों की शुरुआत के साथ पर्यावरण में कई बदलाव आते हैं। लेकिन इस दौरान सबसे खराब बदलाव होता है वह सुबह से शाम तक होने वाला स्मॉग होता है। स्मॉग एक तरह का वायु प्रदूषण होता है। सर्दियों के मौसम के दौरान आधी से ज्यादा हवा दहन से भरी हुई होती है, जो बदलकर स्मॉग बन जाता है। कोयला जलने, वाहनों से होने वाले वायु प्रदूषण आदि की वजह से स्मॉग होता है। स्मॉग स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। जिसकी वजह से खांसी-जुकाम, सीने में जलन जैसी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होने लगती हैं। यह आपके फेफड़ों को हानि पहुंचाता है खासकर अस्थमा से ग्रसित लोगों के लिए बहुत हानिकारक होता है। स्मॉग नाइट्रोजन ऑक्साइड का बना हुआ होता है। जो एक वाष्पशील कार्बनिक यौगिक जो आपके स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि खुद को स्मॉग से कैसे बचाएं। [ये भी पढ़ें: प्रदूषण से शरीर की रक्षा के लिए उपयोगी खाद्य पदार्थ]

बाहर जाने से बचें: अगर आप उन लोगों में से हैं जिन्हें सुबह जॉगिग करने जाना या साइकिल चलाना पसंद है तो इस समय बाहर जाना बंद कर दें। घर से बाहर तब तक ना जाएं जब तक बहुत जरुरी ना हो। कोशिश करें कि आप घर से बाहर ना ही निकलें।

वायु रीडिंग पर अपडेट रहें: यह करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन वायु की रीडिंग से अपडेट रहें। इससे आपको घर से बाहर जाने के बारे में पता चलता रहेगा कि आपको कब बाहर जाना चाहिए और कब नहीं। आप न्यूज भी फॉलो कर सकते हैं। या किसी ऐप की मदद से भी इस रीडिंग के बारे में पता कर सकते हैं। [ये भी पढ़ें: प्रयोग किए हुए टी-बैग का दोबारा कैसे करें इस्तेमाल]

अस्थमा से ग्रसित हैं तो इनहेलर साथ में रखें: अगर आपको अस्थमा की समस्या है तो इस दौरान इनहेलर साथ रखना जरुरी होता है। स्मॉग की वजह से अस्थमा की समस्या वाले लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो सकती है।

एयर प्यूरिफायर: आप स्मॉग के प्रभाव को कम करने के लिए घर में या ऑफिस में एयर प्यूरिफायर का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही नेचुरल तरीके से सॉल्ट लैम्प या बीवैक्स कैंडिल की मदद से हवा को साफ कर सकते हैं।

मुंह को कवर करके रखें: आप एयर मास्क की मदद से भी स्मॉग के मौसम से खुद को बचा सकते हैं। अगर यह संभव नहीं है तो कम से कम अपने चेहरे को ढककर घर से बाहर निकलें। [ये भी पढ़ें: आसान तरीकों की मदद से दूर करें थकान]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "