जोड़ों को कैसे स्वस्थ और मजबूत रखें

Read in English
How to keep joints strong and healthy

हम स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए बहुत कुछ करते हैं। एक्सरसाइज से लेकर पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना सब अपने जीवनशैली में शामिल करने की कोशिश करते हैं। लेकिन क्या आप कभी भी अपने जोड़ों की देखभाल करते हैं? हम सभी को अपनी हड्डियों की देखभाल करनी चाहिए क्योंकि जोड़ों का दर्द किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है और यह हमारे रोजाना की दिनचर्या को प्रभावित कर सकती है। इसलिए, आपको हर रोज अपनी जोड़ों की रक्षा करने के बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त करनी चाहिए और साथ ही पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। जोड़ों में दर्द होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे- अर्थराइटिस या फिर चोट लगने की वजह से। ऐसे में आइए जानते हैं किस प्रकार आप अपने जोड़ों को स्वस्थ रख सकते हैं। [ये भी पढ़ें: आसान तरीकों की मदद से शरीर को कैसे करें डिटॉक्स]

वर्कआउट करने से पहले स्ट्रेच ना करें:
लोग आमतौर पर एक्सरसाइज करने से पहले स्ट्रेच करते हैं ताकि उनके शरीर में लचीलापन आ सके। लेकिन इसे अनदेखा करना बेहतर होता है। एक सप्ताह में तीन बार आप सोन से पहले और जागने के बाद कर सकते हैं। लेकिन एक्सरसाइज करने से पहले बिल्कुल भी ना करें क्योंकि इससे सीधे आपकी हड्डियां प्रभावित होती हैं।

चेक करें कि कितनी मात्रा में आप पोषक तत्वों का सेवन कर रहें हैं:
मांसपेशियों और जोड़ों को स्वस्थ रखने के लिए आपको ऐसे खाद्य पदार्थों के सेवन को बंद करना पड़ेगा जिससे सूजन बढ़ें और साथ ही शरीर में अत्यधिक वसा को भी कम करना पड़ेगा। अगर आप एल्कलाइल युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं तो ये आपके लिए एक विकल्प साबित हो सकता है और सूजन को भी कम करता है। जामुन, अदरक, ऐवोकाडो, सेब, पालक, पपीता जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। [ये भी पढ़ें: लगातार डकार आने के क्या कारण हो सकते हैं]

शारीरिक गतिविधि करते रहें:
जितनी ज्यादा आप शारीरिक गतिविधि करते हैं उतना आपके जोड़ों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है और आपके शरीर में लचीलापन आता है। तो इसलिए टीवी देखते वक्त आप लंबे समय तक बैठें ना रहें।

सीमित एक्सरसाइज और कार्डियो करें:
आपको पता होता है कि आपका शरीर कितनी एक्सरसाइज कर सकता है। ऐसा कोई भी नियम नहीं है कि आपको अपनी क्षमता से ज्यादा एक्सरसाइज करनी चाहिए। जब आप ज्यादा वर्कइउट करने लगते हैं तो इसका प्रभाव आपके जोड़ों पर पड़ने लगता है। जिसकी वजह से कुछ समय बाद अर्थराइटिस होने की संभावना बढ़ जाती है, इसलिए जोड़ों को स्वस्थ रखने के लिए नियमित एक्सरसाइज करें।

सही जूते पहनें:
यदि आप दौड़ते हैं, एक्सरसाइज करते हैं या फिर चलते हैं तो आपके लिए ये बहुत आवश्यक है कि आप आरामदायक जूते पहनें। ये आपके पैरों को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करते हैं। स्पोर्ट्स शूज आपके लिए सबसे अच्छे विकल्प होते हैं। जोड़ों के दर्द और सूजन से बचने के लिए आपको हिल्स से खुद को दूर रखना चाहिए। [ये भी पढ़ें: शरीर के लिए उपयोगी है सरसों का तेल]

 

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "