दिन में कितने कप ग्रीन टी का सेवन होता है उचित

how many cups of green tea you should drink per day

कुछ समय से साधारण की जगह ग्रीन टी का सेवन करने का चलन शुरु हो गया है। जो शरीर के लिए फायदेमंद होती है। ग्रीन टी को कैमलिया सिनेजिस की पत्तियों से प्राप्त किया जाता है। इसे ठंडा, गर्म किसी भी तरह से पिया जा सकता है। ग्रीन टी में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। लेकिन ग्रीन टी में कैफीन भी होता है जिसका अधिक मात्रा में सेवन करना शरीर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। इसके लिए ग्रीन टी का उचित मात्रा में सेवन करना बेहतर होता है। रोजाना कितना ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए यह आपकी सेहत पर निर्भर करता है। तो आइए आपको कितने कप ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए बताते हैं। [ये भी पढ़ें: स्वास्थ्यवर्धक बीज जो आपकी सेहत के लिए हैं फायदेमंद]

कितने कप ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए: ग्रीन टी में मौजूद पोषक तत्व इसे साधारण चाय की तुलना में फायदेमंद बनाते हैं। हावर्ड हेल्थ की एक रिसर्च के अनुसार दिन में कुछ कप ग्रीन टी का सेवन करने से यह शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। आप दिन में 3 कप ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं। यह सामान्य होता है। ग्रीन टी में एंटी वायरल और एंटीबायोटिक गुण होते हैं जो हानिकारक बैक्टीरिया को नष्ट करके मेटाबॉल्जिम को बूस्ट करने में मदद करते हैं।

ज्यादा मात्रा में सेवन करने के नुकसान: अगर कम मात्रा में कैफीन का सेवन किया जाए तो इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जो अल्जाइमर के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है। लेकिन अगर इसका अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो इससे सिरदर्द, नींद की समस्या, जी जलना औक थकावट जैसी समस्या हो सकती हैं। [ये भी पढ़ें: स्नैक्स खाना सेहत के लिए उचित है या नहीं]

ग्रीन टी के फायदे:

फैट कम करता है: ग्रीन टी में मौजूद पोषक तत्व फैट बर्न करने और मेटाबोलिक रेट को बूस्ट करने में मदद करते हैं जिससे जल्दी वजन कम होने लगता है। रोजाना ग्रीन टी का सेवन करने से 14-15 प्रतिशत कर फैट को कम किया जा सकता है।

इम्यूनिटी बढ़ाता है: ग्रीन टी में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी होता है जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद रता है। जिससे शरीर इंफेक्शन या बैक्टीरिय से लड़ने में सक्षम हो जाता है।

हृदय स्वस्थ रखता है: ग्रीन टी कोलेस्ट्रॉल के लेनल को संतुलित रखने में मदद करती है जिससे ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल रहता है। इसके साथ ही ग्रीन टी के सेवन से खून पतला होता है जिससे रक्त के थक्के कम जमते हैं और हृदय से संबंधित समस्याएं होने का खतरा कम रहता है। [ये भी पढ़ें: पुराने दर्द से राहत पाने के लिए ड्रग रहित उपाय]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "