तकिए के बिना सोने से होने वाले फायदे

health-benefits-of-sleeping-without-pillow-

रात को सोते समय लोग अक्सर तकिए का इस्तेमाल करते हैं। तकिया सिर्फ सिर और गर्दन के लिए नहीं होता इसका इस्तेमाल स्पाइन की स्थिति को सही करने में किया जाता है। बहुत से लोगों को तकिए के साथ सोने की आदत होती है और उनको बिना तकिए के नींद नहीं आती लेकिन क्या आप जानते हैं कि रात को बिना तकिए के सोना आपके लिए ज्यादा फायदेमंद होता है। तकिया आपके सिर और गर्दन को सहारा देता है लेकिन इसके बिना सोने के अनेक फायदे हैं। बिना तकिए के सोने से आप झुर्रियों, गर्दन के दर्द और स्पाइन से जुड़ी समस्याओं से बच सकते हैं। अगर आप सिर और गर्दन के दर्द की परेशानी से पीड़ित हैं और एक ऊंचे तकिए पर सोते हैं तो ऐसे में आपका दर्द और भी बढ़ सकता है। इसलिए तकिए का इस्तेमाल ना करना ही बेहतर होता है। आइए जानते हैं कि बिना तकिए के सोने से क्या-क्या फायदे हैं। [ये भी पढ़ें: क्रायोथेरेपी क्या है और कैसे है फायदेमंद]

1. स्पाइन का स्वास्थ्य: बिना तकिए के सोने पर आप की कमर एक प्राकृतिक अवस्था में रहती है। ऊंचे तकिए पर सोने पर स्पाइन का कुछ हिस्सा प्रभावित हो सकता है। इसलिए अगर आपको कमर में दर्द की शिकायत है तो बिना तकिए के सोना फायदेमंद होता है।

2. गर्दन के स्वास्थ्य के लिए: सोने के बाद गर्दन और कंधे में अक्सर होने वाले दर्द का कारण आपका तकिया ही होता है। इसलिए बिना तकिए के सोने से गर्दन और कंधे की नसों में रक्त संचार आसानी से होता है और दर्द की परेशानी नहीं होती। [ये भी पढ़ें: फेफड़ों को डिटॉक्स करने के लिए प्राकृतिक तरीके]

3. झुर्रियां नहीं पड़ती: रात को सोते समय बहुत से लोग तकिए पर मुंह रख कर सोते हैं जिससे चेहरे की त्वचा प्रभावित होती है त्वचा पर झुर्रियां आने लगती है। अकारण पैदा होने वाली इन झुर्रियों से बचने के लिए तकिए का इस्तेमाल ना करें।

4.कोशिकाओं के पुनर्निमाण में मदद मिलती है: रात को सोते समय कोशिकाएं अधिक प्रोटीन पैदा करती है जो कि यूवी किरणों और तनाव के कारण डैमेज होने वाली कोशिकाओं के पुनर्निमाण मे मदद करता है। इसलिए बिना तकिए के एक नेचुरल अवस्था में सोने पर यह प्रक्रिया सही तरीके से होती है और गर्दन आदि की कोशिकाओं का भी भली-भांति पुनर्निमाण हो जाता है।

5.मानसिक बीमारियों से बचाता है: बिना तकिए के सोने से आप एक सही अवस्था में सोते हैं और इससे आपकी नींद खराब नहीं होती। एक अच्छी नींद कई मानसिक बीमारियों का समाधान होती है। सही प्रकार से नींद लेने से तनाव, डिप्रेशन और इंसोम्निया जैसी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। इसलिए बिना तकिए के सोना फायदेमंद होता है। [ये भी पढ़ें: मुंह की बीमारियां जो आपके स्वास्थ्य के लिए खतरे के संकेत देती है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "