खाना खाते समय जमीन पर बैठने से क्या फायदे होते हैं

Read in English
Health Benefits of Sitting on the Floor while Eating

photo credit: remedyspot.com

आजकल लोग हर काम के लिए आसान चीजों की तरफ भागते हैं। जैसे बैठने के लिए हमेशा कुर्सी का इस्तेमाल किया जाता है। कहीं बाहर जाना होता है तो पैदल चलने की बजाय गाड़ी से जाना पंसद करते हैं। खाना खाने के लिए काउच या डाइनिंग रुम का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन पुराने समय में लोग खाना जमीन पर बैठकर खाते हैं। यह आज के समय में सामान्य नहीं है। कई लोगों को जमीन पर बैठने में समस्या होती है उसके लिए किसी पिलो का इस्तेमाल किया जा सकता है ताकि कमर को आराम मिल सकें। तो आइए आपको बताते हैं जमीन पर बैठकर खाना खाने से क्या फायदे होते हैं। [ये भी पढ़ें: अगरबत्ती से पहुंच सकता है आपको नुकसान, जानें क्या है इसके साइड इफेक्ट]

पाचन में सुधार करता है: पालती मारकर जमीन पर बैठकर खाना खाने से पाचन सिस्टम में सुधार होता है। खाना खाते समय आगे की तरफ थोड़ा झुककर बैठने सें पेट की मांसपेशियों को पाचन रस एकत्रित करने में मदद मिलती है जिससे खाना जल्दी और सही तरीके से पच जाता है। साथ ही इस मुद्रा में बैठने से दिमाग शांत होता है और रीढ़ की हड्डी के निचले भाग पर दबाव पड़ता है। जो लचीलेपन को बढ़ाकर मांसपेशियों से तनाव दूर करके ब्लड प्रेशर को सामान्य करता है।

जीवनकाल को बढ़ाता है: 2012 में यूरोपियन जर्नल ऑफ प्रिवेंशन कार्डिलॉजी की रिपोर्ट के मुताबिक जमीन से बिना किसी सपोर्ट का इस्तेमाल करे उठने से जीवनकाल बढ़ता है। ऐसा करने से शरीर में लचीलापन बढ़ता है और मजबूत भी बनता है।जो चोट या गिरने से बचने के लिए जरुरी होता है। [ये भी पढ़ें: आपका चेहरा इन स्वास्थ्य समस्याओं की तरफ करता है इशारा]

लचीलापन और मजबूती मे सुधार करता है: पालती मारकर बैठने से घुटने, एड़ियां और हिप्स स्ट्रेच होते हैं। साथ ही यह रीढ़ की हड्डी, कंधे, सीने को फ्लेक्सिबल बनाता है जिससे बीमारियों से ग्रसित होने की संभावना कम हो जाती है। इसके बजाय कुर्सी पर बैठने से कमर का निचला हिस्सा कमजोर होता है।

बॉडी पॉस्चर में सुधार: मांसपेशियों से तनाव और खिंचाव को दूर करने के लिए सही पॉस्चर में बैठना जरुरी होता है। खासकर गर्दन और कमर के लिए। खाना खाते समय पैरो कों मोड़कर जमीन पर बैठने से शरीर का पॉस्चर अपने आप ठीक हो जाता है। जमीन पर बैठने के दौरान आपकी कमर बिल्कुल ठीक होनी चाहिए। रीढ़ की हड्डी को सीधा करके कंधों को पीछे की तरफ पुश करने से शरीर से हर तरह का दर्द दूर हो जाता है।

ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है: जमीन पर बैठने से रक्त आसानी से हृदय से शरीर के बाकि हिस्सों में चला जाता है। इसके विपरीत कुर्सी पर बैठने से पैरों तक रक्त को जाने में समय लग जाता है जिससे इसका लेवल कम हो जाता है। जमीन पर बैठकर खाना खाने से हृदय से तनाव कम हो जाता है। [ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं जिनके कारण घट सकता है आपका वजन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "