सामान्य चीजों का इस्तेमाल आपके स्वास्थ्य को कर सकता है प्रभावित

everyday things that could be harmful for your health

photo credit: ebay.com

सभी को पता है पेस्टीसाइड शरीर के लिए हानिकारक होते हैं जो हमारे रोजाना की जाने वाली चीजों की वजह से हमारे शरीर में चले जाते हैं। केमिकल और विषाक्त पदार्थ हमारे शरीर में कई तरह से जा सकते हैं। खाने-पीने, त्वचा, आंख, नाक सभी चीजों के माध्यम से जा सकते हैं। शुरुआत में यह केमिकल शरीर के लिए हानिकारक नहीं होते हैं लेकिन अगर लंबे समय तक यह केमिकल शरीर में रहने लगे तो कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होने लगती हैं। तो आइए आपको उन चीजों के इस्तेमाल के बारे में बताते हैं जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।[ये भी पढ़ें: फूड्स जिनका सेवन करने से बचना चाहिए]

एंटीबैक्टीरियल साबुन: कभी-कभी एंटीबैक्टीरियल साबुन का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है यह हाथों से केमिकल और विषाक्त पदार्थों को हटाने में मदद करते हैं। मगर कुछ एंटीबैक्टीरियल साबुन में ट्राईक्लोसन, ट्राईक्लोकार्बन केमिकल होते हैं जो हार्मोन असंतुलन, मेटाबॉल्जिम धीमा करने के साथ प्रजनन प्रणाली के विकास को बाधित करते हैं।

सुगंधित उत्पाद: सभी को अच्छी सुंगध वाली जगह पर रहना अच्छा लगता है। एयर फ्रेशनर से लेकर टॉयलेट पेपर सभी में सुगंध होती है। इन चीजों में खूशबू के लिए हानिाकारक केमिकल होते हैं। सांस लेते समय इन सुगंध को अवशोषित करने से शरीर में विषाक्त पदार्थ एकत्रित होने लगते हैं। फिलेट्स की वजह से सुगंधित चीजों से दूर रहना चाहिए। यह पुरुषों में सीमन की गुणवत्ता को कम करता है। [ये भी पढ़ें: किन हार्मोन्स के कारण आपको बार-बार भूख लगती हैं]

आर्टिफिशियल फूड डाई: सभी को लगता है कि रंगीन नाश्ते और एनर्जी ड्रिंक का सेवन करके सिंथेटिक डाई के सेवन से बचा जा सकता है। लेकिन कई बेक्ड फूड में डाई होती है जो शरीर के लिए हानिकारक होती है। नेशनल सेंट्रल ऑफ बायोंलॉजिकल इंफोर्मेशन की स्टडी के अनुसार आर्टिफिशियल डाई के सेवन से बच्चों को हाईपरएक्टिविटी की समस्या बढ़ सकती है।

टैम्पॉन: टैम्पॉन कॉन जैसी चीजों के नहीं बने होते हैं। जिसकी वजह इनका इस्तेमाल महिलाओं के लिए हानिकारक हो सकता है। टैम्पॉन रेयोन के बने होते हैं। रेयान बनाने में उत्पन्न डायाक्सीन एक सिंथेटिक फाइबर होता है। वल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन की रिपोर्ट के अनुसार डायाक्सीन विषाक्त होते हैं जिसके कारण प्रजनन प्रणाली और हार्मोन असंतुलन जैसी समस्या हो सकती है। [ये भी पढ़ें: स्वस्थ रहने के लिए क्यों सही तकिये का चुनाव है जरुरी]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "