यूरिन संबंधी समस्याएं जो बताती हैं कि आपको किडनी स्टोन हो सकते हैं

Read in English
different-type-of-pee-problems-that-tell-you-may-have-kidney-stones-

जब लोगों को यूरिन(मूत्र) संबंधी कोई परेशानी होती है तो इसे आमतौर पर सबसे पहले यूटीआई (यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन) का संकेत माना जाता है लेकिन मूत्र संबंधी हर परेशानी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का संकेत नहीं होती है। इसके पीछे अनेक कारण हो सकते हैं जिनके बारे में अक्सर आप नहीं जानते हैं। इसके पीछ यूरिन इंफेक्शन और किडनी स्टोन भी हो सकता है। लोगों का अक्सर मानना होता है कि अगर किडनी स्टोन की परेशानी है तो पेट में दर्द जरुर होगा लेकिन हमेशा ऐसा जरुरी नहीं होता है। किडनी स्टोन के और भी कई लक्षण होते हैं जिनके बारे में आपको कुछ खास जानकारी नहीं होती है। इसी तरह से हर बार मूत्र से संबंधित परेशानी यूटीआई का संकेत नहीं होती है। आइए जानते हैं यूरिन संबंधी परेशानियों के बारे में जो आपको संकेत देती है कि आपको किडनी स्टोन की परेशानी हो सकती है। [ये भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आपको मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट से सम्पर्क करना चाहिए]

1.यूरिन करते समय पीठ, पेट और कमर में दर्द होना: किडनी स्टोन से सिर्फ आपके पेट में ही नहीं बल्कि कमर, कूल्हों और पेट में भी दर्द होता है। यूरेटर जो कि एक छोटी सी ट्यूब होती है यूरिन को आपकी किडनी से ब्लैडर में ले जाने का काम करता है। स्टोन के कारण यूरेटर के अवरोधित हो जाने के कारण आपको यह दर्द होता है।

2.यूरिन में खून का आना: ब्लैडर बहुत संवेदनशील होता है। इसलिए जब किडनी में स्टोन होते हैं तो ये स्टोन टिशू में संकुचन पैदा करते हैं जिससे इसमें दर्द होने लगता है और इसी कारण खून आने लगता है जो आपके यूरिन के साथ बाहर आता है। [ये भी पढ़ें: वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करने के लिए उपाय]

3.बहुत कम यूरिन स्राव होना: बहुत कम यूरिन का स्राव भी इसका संकेत होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योकिं स्टोन जो कि किडनी में मौजूद होते हैं यूरेटर से होकर गुजरते हैं। ये स्टोन ब्लैडर को अवरोधित करते हैं जिससे यूरिन का स्राव अवरोधित हो जाता है।

4. जी मिचलाना और उल्टी होना: किडनी स्टोन का एक संकेत जी मिचलाना और उल्टी होना भी होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपकी किडनी को स्टोन बाधित कर देते हैं। इससे ब्लैडर का मार्ग भी अवरोधित हो जाता है। इससे आपके पाचन तंत्र को भी क्षति पहुंचती है जिससे जी मिचलाना और उल्टी जैसी परेशानी हो सकती है। [ये भी पढ़ें: सच्चे और झूठे इंसान में क्या फर्क है]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "