जानें क्या है हाथ धोने का सही तरीका

correct way to wash your hands

हाथ धोने की अच्छी आदत हमें बचपन से ही सिखाई जाती है। जिसे हमेशा ध्यान में रखना जरुरी होता है। हाथ धोने से इंफेक्शन और कीटाणुओं के संपर्क में आने से रोकथाम होती है। साथ ही दूसरे लोगों के संपर्क में आने से फैलने वाले कीटाणुओं से भी बचा जा सकता है। खासकर खाना खाने से पहले हाथ धोना जरुरी होता है। इससे खाने के माध्यम से शरीर के अंदर कीटाणु अंदर नहीं जाते हैं और गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है। बहुत बीमारियां तो केवल हाथ ना धोने की वजह से हो जाती हैं। तो आइए आपको हाथ धोने का सही तरीका क्या होता है बताते हैं। [ये भी पढ़ें: आंखों की देखभाल के लिए इन बातों का ध्यान रखना है जरूरी]

किस समय हाथ धोने चाहिए:

  • हर बार बॉथरुम का इस्तेमाल करने के बाद।
  • जब घाव साफ कर रहे हों।
  • खाना खाने और बनाने के पहले और बाद में भी।
  • घर के बाहर समय व्यतीत करने पर।
  • किसी बीमार व्यक्ति से मिलने के बाद और पहले।
  • घर की सफाई करने के बाद।
  • लेंस लगाने से पहले और उतारने के बाद।
  • बर्तन धोने के बाद हाथ धोएं।
  • खासंने या छीकने के बाद भी हाथ धोना जरुरी होता है। [ये भी पढ़ें: किसी चीज को खाने की तीव्र इच्छा होना क्या इशारा करता है]

हाथ धोने का तरीका:

  • सबसे पहले हाथों को अच्छी तरह गीला होने दें। आप ठंडे या गुनगुने किसी भी तरह के पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आपकी त्वचा शुष्क है तो गर्म पानी का इस्तेमाल ना करें।
  •  उसके बाद हाथों पर थोड़ा सा साबुन लगाएं। आप तरल या ठोस किसी भी तरह के साबुन का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • हाथों को अच्छी तरह रगड़ें और साबुन लगाते समय नाखुन, कलाई और हाथ के पिछले हिस्से पर अच्छी तरह साबुन लगाएं।
  • कम से कम 20 सेकेंड तक हाथ रब करें।
  • उसके बाद साफ पानी से हाथ धोएं। ध्यान रहे हाथ से सारा साबुन निकल जाएं।
  • उसके बाद साफ तोलिये की मदद से हाथ को सुखा लें। आप अगर बाहर हैं तो एयर ड्राइंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इन सब चीजों के साथ आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि आप एंटीबैक्टीरियल साबुन का इस्तेमाल करें जिसमें ट्राइक्लोसन केमिकल हो। यह केमिकल हाथ से बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद करते हैं। अगर आप साबुन का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं तो सैनिटाइजर का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका इस्तेमाल करते समय ध्यान रखें कि उसमें एल्कोहल ना हो। यह हाथों से पूरी तरह कीटाणुओं को नष्ट करने में मदद करते हैं। [ये भी पढ़ें: जानिए पानी के अलग-अलग प्रकार और कितना स्वस्थ हैं इनका इस्तेमाल]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "