बर्तन धोने के दौरान की जाने वाली आम गलतियां

Read in English
common mistakes one makes while washing the dishes

बहुत से लोगों को खाना बनाना पसंद होता है। मगर खाना बनाना आसान नहीं होता है इसके साथ आपको कई जिम्मेदारियां भी उठानी पड़ती हैं। खाना बनाने के साथ बर्तन धोना, किचन भी साफ करना जरुरी होता है। बर्तन धोने का काम लोगों को सबसे कठिन लगता है। हालांकि बर्तन धोना एक महत्वपूर्ण काम होता है। गंदगी से बचने के लिए बर्तनों को सही तरीके से धोना जरुरी होता है। कभी-कभी बर्तन धोते समय उनमें गंदगी रह जाती है इसलिए बर्तनों को सही तरीके से धोना जरुरी होता है, नहीं तो बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है। इस्तेमाल किए हुए बर्तनों को अगर सही तरीके से ना धोया जाए तो इनमें बहुत जल्दी बैक्टीरिया और फंगस लग जाती है। इस समस्या से बचने के लिए बर्तन धोते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरुरी होता है। तो आइए आपको उन गलतियों के बारे में बताते हैं जो बर्तन धोते समय लोग अक्सर करते हैं। [ये भी पढ़ें: खाद्य पदार्थों को कैसे गर्म करें कि वो ताजा रहें]

गंदे सिंक में बर्तन धोना: सभी लोग गंदे या इस्तेमाल किए गए बर्तनों को सिंक में रखते हैं और बर्तन भी उस गंदे सिंक में धोते हैं। गंदे सिंक में पहले से कीटाणु और बैक्टीरिया होते हैं इसलिए जब भी बर्तन धोएं तो ध्यान रखें कि आपका सिंक साफ होना चाहिए और अगर साफ नहीं है तो पहले सिंक को साफ करें उसके बाद ही बर्तन धोएं।

गंदे स्पंज का इस्तेमाल करना: जिस स्पंज से आप बर्तन धोते हैं वह भी साफ होना जरुरी होता है। उसमें पहले से ही कीटाण होते हैं। गंदे स्पंज का इस्तेमाल करने से इसका आपके स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है। इसमें बचा हुए खाना रह जाने की वजह से बैक्टीरिया एकत्रित हो जाते हैं। बैक्टीरिया से बचने के लिए हर हफ्ते बर्तन धोने वाले स्पंज को बदलें। साथ ही बर्तन धोने से पहले स्पंज को धोएं उसके बाद ही बर्तन धोएं। [ये भी पढ़ें: आसान आदतें जो आपको अधिक स्वस्थ बनाए रखती हैं]

ज्यादा साबुन का इस्तेमाल करना: बहुत से लोग बर्तन धोते समय ज्यादा साबुन का इस्तेमाल करते हैं। ज्यादा साबुन का इस्तेमाल करने से बर्तनों के ऊपर से झाग पूरी तरह हट नहीं पाता है और उसी पर छिपक जाता है।

बर्तनों को पहले पानी से साफ नहीं करना: अगर आप बर्तन धोने से पहले उन्हें अच्छी तरह पानी से साफ नहीं करते हैं और बचा हुआ खाना नहीं हटाते हैं तो उससे बर्तनों पर बैक्टीरिया और कीटाणु रह जाते हैं। हमेशा बर्तन धोने से पहले उन्हें पानी से साफ कर लें उसके बाद ही साबुन का इस्तेमाल करें।

बर्तन साफ करने वाले कपड़े को नहीं धोना: ज्यादातर लोग बर्तन सुखाने वाले कपड़े को धोते नहीं है। या उसे साफ रखने पर ध्यान नहीं देते हैं। उस कपड़े से इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। [ये भी पढ़ें: स्वस्थ रहने के लिए करें कम कैलोरी वाले नाश्ते का सेवन]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "