आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए फायदेमंद खाद्य पदार्थ

Useful foods to enhance eyesight

दैनिक जीवन की कई आदतें ऐसी होती है जो आपकी आंखों को कमजोर बना देती है। इससे आपका विजन कम हो जाता है और आपको चश्मा लग जाता है, यह दृष्टिदोष दो प्रकार का होता है जिसे दूरदृष्टि दोष या निकट दृष्टिदोष कहते हैं। ऐसे में आपको अपने दृष्टिदोष के अनुरुप चश्मा लगाना पड़ता है। कमजोर आंखों के कारण सिर दर्द, आंखों से पानी गिरना, आंखे लाल होना आदि कई तरह की परेशानियां हो सकती है। आइए जानते हैं कि आंखों की रोशनी प्राकृतिक रुप से बढ़ाने के लिए आप किन- किन खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते है।[ये भी पढ़ें: प्रयोग किए हुए टी-बैग का दोबारा कैसे करें इस्तेमाल]

केल: केल में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंटस होते हैं इसके साथ ही इसमें बीटा-कैरोटीन होता है। केल के एक कप में 23.8 मिग्रा ल्यूटिन और ज़ेक्सैथीन होते हैं। इसलिए केल को सलाद में या किसी अन्य प्रकार से खाने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। जिससे आंखों कि रोशनी बढ़ती है।

मक्का: मक्का आंखों को स्वस्थ रखने के लिए उपयोगी इसमें ल्यूटिन और ज़ेक्सैथीन का भंडार होता है। इसका सेवन आप सीधे या फिर सूप या खिचड़ी बना कर सकते हैं जिससे आपकी आंखें स्वस्थ रहती है और आंखों की रोशनी बढ़ती है। [ये भी पढ़ें: रोजाना कितने ग्राम फैट का सेवन करना चाहिए]

पालक: एक कप पालक में 20.4 मिग्रा ल्यूटिन और ज़ेक्सैथीन होता है साथ ही पालक में आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए भरपूर मात्रा में विटामिन A होता है इसलिए पालक का सेवन आपकी आंखों के लिए बहुत लाभकारी होता है।

ब्रोकली: फाइबर और विटामिन c से भरपूर ब्रोकली में बीटा-कैरोटीन,ल्यूटिन और ज़ेक्सैथीन होते हैं। इसलिए आंखों के स्वास्थ्य के लिए भी ब्रोकली बेहद लाभकारी होती है। इसे आप पास्ता में डालकर या सब्जी बनाकर खा सकते हैं।

अंडा: अंडा प्रोटीन, विटामिन E,ओमेगा-3 फैटी एसिड, ल्यूटिन काफी मात्रा में होता है। जो आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद करता है इसलिए अंडे का सेवन आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए काफी लाभकारी होता है।

संतरा: संतरे में विटामिन सी होता है जो कि आई टिश्यू को स्वस्थ रखने में मदद करता है। विटामिन सी विटामिन ई का पुनर्निमाण करने में भी सहयोग करता है और इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए उपयोगी होते हैं। इसलिए संतरे के सेवन से आंखों की रोशनी बढ़ती है। [ये भी पढ़ें: सर्दियों के मौसम में खुद को स्मॉग से कैसे बचाएं]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "