शिलाजीत का सेवन स्वास्थ्य के लिए होता है लाभकारी

amazing health benefits of shilajit

हिमालय की चट्टानों से मिलने वाला शिलाजीत एक चिपचिपा पदार्थ होता है। शिलाजीत को बनने में सैंकड़ों वर्ष लग जाते हैं यह पेड़-पौधें के विघटन से बनता है। चट्टानों के खिसकने के कारण जो पेड़-पौधे दब जाते हैं वे सैकड़ों वर्षों बाद शिलाजीत का रुप धारण कर लेते हैं। आयुर्वेद में शिलाजीत का उपयोग प्राचीन काल से किया जाता रहा है और संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए यह काफी उपयोगी होता है। आइए जानते हैं शिलाजीत के स्वास्थ्य लाभ के बारे में।[ये भी पढ़ें: पर्याप्त मात्रा में फाइबर के सेवन से होने वाले फायदे]

1.एल्जाइमर: एल्जाइमर एक ब्रेन डिसऑर्डर होता है जो कि यादाश्त को कम कर देता है। एल्जाइमर को खत्म नहीं किया जा सकता लेकिन इसके दुष्प्रभावों को कम करने के लिए शिलाजीत काफी उपयोगी होता है। शिलाजीत में फुल्विक एसिड पाया जाता है जो कि एक शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट होता है जो कि इंफ्लेमेशन को कम करता है और एल्जामर के हानिकारक दुष्प्रभावों को कम करता है।

2.टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है: टेस्टोस्टेरोन पुरुषों में एक महत्वपूर्ण हार्मोन होता है। इसका स्तर कम होने से बाल झड़ने, मसल्स का कमजोर होना, थकान, फैट बढ़ना और सेक्स ड्राइव का कम होना आदि कई परेशानियां पैदा हो सकती है। शिलाजीत का सेवन करने से टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। एक अध्ययन के अनुसार इसका सेवन करना टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने के लिए यह काफी उपयोगी होता है। [ये भी पढ़ें: गैस पास करने से आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या पता चलता है]

3. बढ़ती उम्र के लक्ष्णों को कम करता है: शिलाजीत में पाया जाने वाला फुल्विक एसिड एक शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट होता है जिसमें एंटी-इंफ्लेमेंट्री गुण होते हैं। यह कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाता है और साथ ही लंबे समय तक बढ़ती उम्र के दुष्प्रभावों से शरीर को बचाए रखता है।

4.आयरन की कमी से बचाता है: आयरन की कमी से एनीमिया, थकान, कमजोरी और सिरदर्द जैसी कई समस्याएं हो जाती हैं। एक अध्ययन के अनुसार शिलाजीत आयरन की कमी नहीं होने देता जिससे खून में पर्याप्त हीमोग्लोबिन रहता है और खून की कमी जैसी परेशानी नहीं होती है।

5.दिल को स्वस्थ रखने के लिए उपयोगी: शिलाजीत दिल को स्वस्थ रखता है। यह दिल की धड़कनों को नियंत्रित करते हृदय को स्वस्थ रखता है। एक अध्ययन के अनुसार शिलाजीत के सेवन से हृदय की बीमारियां और घाव कम करने में मदद मिलती है जिससे हृदयघात और कार्डिक अरेस्ट का खतरा कम हो जाता है।[ये भी पढ़ें: शरीर में किस तरह के दर्द को अनदेखा ना करें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "