अंडे से जुड़े तथ्य जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए

Read in English
amazing facts you did not know about eggs

अंडे में उच्च मात्रा में प्रोटीन और पोषक तत्व होते हैं जिसकी वजह से अंडे का सेवन नाश्ते में फायदेमंद माना जाता है। इसके साथ ही अंडे में विटामिन बी, अनसैचुरेटिड फैट और 6 ग्राम प्रोटीन भी होता है। हैंगओवर उतारने के लिए भी अंडा फायदेमंद होता है इसमें अमीनो एसिड, क्रिसटिन होता है जो एसिटेल्डिहाइड को ब्रेकडाउन करने में मदद करता है। एसिटेल्डिहाइड की वजह से ही हैंगओवर होता है। अंडा शरीर से विषाक्त पदार्थ निकालने में भी मदद करता है। आर्गेनिक एग मे हार्मोन, एंटीबायोटिक और केमिकल भी नहीं होते हैं। इसी तरह से अंडे से जुड़े कुछ तथ्य होते हैं जिनके बारे में लोगों को पता नहीं होता है। तो आइए आपको इन्ही तथ्यों के बारे में बताते हैं। [ये भी पढ़ें: पोटेशियम के सेवन से क्या फायदे होते हैं]

अंडे की जर्दी दिमाग को विकसित करने में मदद करती है: अंडे की जर्दी में उच्च मात्रा में कोलीन नामक विटामिन बी-कॉम्प्लैक्स होता है। कोलीन न्यूरोलॉजिकल कार्य और इंफ्लेमेशन को कम करता है। डाइट्री कोलीन भ्रूण के दिमाग को विकसित करने में मदद करता है इसलिए प्रेग्नेंट महिलाओं को अंडे का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इसके साथ ही कोलीन बीथेन को शरीर में ब्रेकडाउन कर देता है जिससे सेरोटिन, डोपामाइन नामक हैप्पी हार्मोन का उत्पादन होता है।

विटामिन डी का स्त्रोत: शरीर को विटामिन डी सूरज की किरणों और कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन करके मिलता है। अंडे विटामिन डी का स्त्रोत होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। अपनी डाइट में अंडे को शामिल करके विटामिन डी की कमी को पूरा किया जा सकता है। अगर आप सूरज की रोशनी में ज्यादा देर तक नहीं रह पाते हैं तो अंडे का सेवन आपके लिए लाभकारी होता है। [ये भी पढ़ें: पॉटी जाने से जुड़ी समस्याएं और इनके समाधान]

अंडे का रंग पोषक तत्वों को प्रभावित नहीं करता है: बहुत से लोगों को लगता है कि भूरे रंग का अंडा सफेद रंग के अंडे से ज्यादा फायदेमंद होता है। लेकिन अंडे के छिलके के रंगे से इसके पोषक तत्वों पर कोई फर्क नहीं पड़ता है। अंडे की जर्दी का रंग मुर्गी को खिलाई जाने वाली चीजों पर निर्भर करता है इसका पोषक तत्वों से कोई संबंध नहीं होता है।

अंडे में फैट होता है: एक बड़े अंडे में 1.5 ग्राम सैचुरेटिड फैट, 1 ग्राम पॉलीसैचुरेटिड फैट और 1.8 ग्राम मोनोसैचुरेटिड फैट होते हैं। कुछ अंडों में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। ऐसा मुर्गी के फ्लैक्स सीड का सेवन करने की वजह से होता है।

अंडे प्रोटीन का स्त्रोत होते हैं: अगर आपको प्रोटीन का सेवन करना है तो इसके लिए अंडा सबसे अच्छा विकल्प है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अंडे में मौजूद प्रोटीन को शरीर आसानी से अवशोषित कर लेता है। इसमें ना सिर्फ उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन होता है बल्कि एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ए, विटामिन बी12, फोलेट, फॉस्फोरस और कोलीन भी होता है। [ये भी पढ़ें: गर्मियों में खुद को ठंडा रखने के लिए कौन सी चीजों से बचें]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "