वजन कम करने के लिए फायदेमंद है कीटोसिस डाइट

Read in English
ketosis diet plan for weight loss

Photo Credit : Youtube

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको वर्कआउट और हेल्दी डाइट प्लान अपनाना पड़ता है। वजन कम करने के लिए आपके पास अलग-अलग डाइट प्लान के विकल्प होते हैं और ऐसा ही एक विकल्प है कीटोसिस डाइट-प्लान जिसे वजन कम करने के लिए अपनाना काफी उपयोगी रहता है। इस डाइट प्लान में आप 70-80 प्रतिशत हेल्दी फैट का सेवन करते हैं। तो आइए जानते हैं कि क्या है कीटोसिस डाइट प्लान और कैसे यह वजन कम करने के लिए उपयोगी है। [ये भी पढ़ें: सात दिन में शरीर को शुगर डिटॉक्स करने के लिए स्वस्थ डाइट प्लान]

कीटो डाइट प्लान में आप इन खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं। 

1. फैटी नट्स:

  • काजू, पंपकीन सीड्स
  • एवोकाडो
  • अंडा
  • फुल-फैट चीज
  • सब्जियों में : पालक, ब्रोकली, बंदगोभी, मशरुम, शिमला मिर्च और हरी सब्जियां
  • ऑलिव ऑयल
  • बटर
  • क्रीम
  • फैटी फिश: साल्मन मछली
  • बेकन
  • कम से कम 1 ग्राम सोडियम के साथ चिकन शोरबा

किटोसिस डाइट शुरु करने वालों के लिए खाने का डाइट प्लान:
1. नाश्ता: बेकन और सब्जियों के साथ फ्राइ किया हुआ अंडा

  • बटर/ ऑलिव ऑयल -1 चम्मच
  • अंडा- 2
  • पालक – तीन चौथाई कप
  • मशरुम- आधा कप
  • शिमला मिर्च- एक कप

इस नाश्ते में 774 कैलोरी, 56 ग्राम फैट्स, कार्ब 5 ग्राम और प्रोटीन 25 ग्राम होता है।

2.लंच में सेवन करें ये: बीएलटी लेटिस रैप

  • 3 बड़े पत्ते रोमनिक लेटिस
  • बेकन के 6 टुकड़े
  • ग्रील चिकन
  • 5 छोटे चैरी टमाटर
  • चीज
  • मेयोनीज 3 चम्मच

लंच में 632 कैलोरी, फैट 48 ग्राम, कार्ब 8 ग्राम और प्रोटीन 42 ग्राम होती है।

3. डिनर: बेक्ड सेल्मन के साथ बेक्ड आलू

  • अटलांटिक सेल्मन के साथ आधा चम्मच बटर
  • तीन चौथाई कप मैश किए हुए फूलगोभी
  • आधा चम्मच बटर
  • खट्टा क्रीम 2 चम्मच
  • बेकन 1 टुकड़ा
  • हरी प्याज पत्ती: 1 चम्मच
  • पनीर

सेल्मन में सारे मसाले मिलाकर इसे 350 डिग्री फॉरेन्हाइट पर बेक करें।
डिनर में 653 कैलोरी, 6 ग्राम कार्ब और 38 ग्राम प्रोटीन होता है।

क्या होती है कीटोसिस डाइट : कीटोसिस डाइट जिसे कीटो डाइट भी कहा जाता है,इस डाइट में कार्बोहाइड्रेट(कार्ब) काफी कम होता है जो कि वजन बढ़ाने का मुख्य कारक होता है। कीटोनिक डाइट में 70 से 80 प्रतिशत तक हेल्दी फैट्स होते है, 10 से 20 प्रतिशत तक प्रोटीन और 5 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट होता है। इसलिए वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज के साथ यह डाइट आपके शरीर के स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होती है।

भूख कम करने में करता है मदद: कीटोसिस डाइट से भूख कम लगती है अगर आप हाई-कार्ब डाइट का सेवन करते हैं तो इससे आपका ब्लड शुगर लेवल में उतार- चढ़ाव होता है जिससे आपको तुरंत भूख लग सकती है। लेकिन जब आप कीटोसिस डाइट का सेवन करते हैं तो यह फैट बर्न करना शुरु करते हैं तो और आपके ब्लडशुगर का लेवल कम हो जाता है और यह एक हेल्दी लेवल पर आकर स्थिर हो जाता है। यह हेल्दी फैट आपके लिवर में कीटोन के रुप में मेटाबोलाइज्ड हो जाते हैं और यह आपकी भूख को कम करती है जिससे आप अनावश्यक खाने से बचे रहते हैं।[ये भी पढ़ें: 20 साल की उम्र के लिए स्वस्थ डाइट प्लान]

मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ाने में करता है मदद: कीटोसिस डाइट प्लान फॉलो करते समय आपको कैलोरी की चिंता करनी की जरुरत नहीं है। आप तब तक खा सकते हैं जब तक आपका पेट ना भरें, कीटोसिस नेचुरल मेटाबोलिक बूस्टर होता है इसलिए कीटोसिस मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है और इससे आपके शरीर में भोजन का पाचन तेजी से होता है।

फूड क्रेविंग कम होती है: जब आप फैट बर्न करते हैं तो तो आपके ब्लड शुगर का लेवल एकदम स्थिर हो जाता है और कीटोसिस डाइट का यहीं फायदा होता है कि इससे ब्लड शुगर का लेवल स्थिर हो जाता है जिससे आपको बार- बार शुगर और कार्ब युक्त पदार्थों का सेवन करने की इच्छा नहीं होती है।

हेल्दी फैट्स का शरीर में जाना: हाइ- फैट डाइट ब्लड शुगर और इंसुलिन के लेवल को लगातार बढ़ाते हैं, जिससे कोशिकाओं की क्रिया धीमी हो जाती है और साथ ही वे डैमेज होने लगती है जबकि कीटोसिस डाइट के सेवन से आपके शरीर में हेल्दी फैट पर्याप्त मात्रा में पहुंच जाता है जो कि आपके शरीर में एक अच्छे एचडीएल कोलेस्ट्रॉल लेवल को बढ़ाता है। इसलिए कीटोसिस डाइट वजन कम करने के साथ- साथ डायबिटीज जैसी कई बीमारियों का खतरा भी कम करता है। [ये भी पढ़ें: एक महीने में 10 किलो तक वजन घटाने के लिए डाइट प्लान]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "