एग डाइट प्लान क्या है और यह कैसे काम करता है

Read in English
Egg diet plan and how it works

लोगों को अक्सर लगता है कि डाइटिंग का मतलब है कि अपने आहार में अधिक सब्जियां और फलों को शामिल करना और अंडे और मांस को छोड़ देना। हालांकि, यदि आपको अंडा खाना पसंद हैं तो हमारे पास आपके लिए एक समाधान है। एग डाइट प्लान बहुत ही कम समय में वजन कम करने में आपकी मदद करता है। यह न केवल वजन कम करने में मददगार है बल्कि यह विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं से लड़ने में भी मदद करता है। उबला हुआ अंडा, ऑमलेट, तले हुए अंडे, स्टीम्ड एग, अंडे की भूजी आदि विभिन्न प्रकार से अंडे का सेवन किया जा सकता है। हालांकि एक चीज का सेवन करके दिनभर रहना मुश्किल है, लेकिन यह काफी प्रभावी है और वजन कम करने में आपकी सहायता करता है। आइए जानते हैं कि एग डाइट प्लान क्या है और यह कैसे काम करता है। [ये भी पढें: दिन में एक बार भोजन करने से क्या होता है]

एग डाइट प्लान क्या है
अंडे आपकी भूख को कम करने में मदद करते हैं क्योंकि इनमें प्रोटीन भरपूर और कार्बोहाइड्रेट कम होता है। यह लंबे समय तक आपका पेट भरा रखता है। साथ ही यह आपके आहार में कैलोरी की मात्रा को कम करता है। इससे आप प्रभावी रूप से वजन कम कर पाते हैं। इस डाइट प्लान को अपनाने से आपके शरीर को पर्याप्त विटामिन और मिनरल्स की आपूर्ति होती है। इस डाइट प्लान को अपनाने के लिए किसी भी व्यक्ति को डाइटीशियन की सलाह लेनी चाहिए। इसमें अंडे के साथ चिकन, टर्की, मछली, अंगूर, ब्रोकली, मशरूम, पालक आदि को शामिल किया जा सकता है। एग डाइट प्लान कई तरह से किया जा सकता है।

पहला एग डाइट प्लान:

नाश्ता: दो उबले हुए अंडे और 1 ग्रेपफ्रूट या दो अंडों का ऑमलेट पालक और मशरूम के साथ। इसे तले नहीं। [ये भी पढें: एप्पल डाइट प्लान की मदद से कैसे घटाएं वजन]

दोपहर का भोजन: दोपहर के भोजन में आप आधा रोस्टेड चिकन ब्रेस्ट और ब्रोकोली खा सकते हैं।

रात का खाना: एक सर्विंग फिश और एक कटोरा सलाद। रात का खाना 8 बजे तक करने का प्रयास करें।

दूसरा एग डाइट प्लान:

नाश्ता: आधे ग्रेपफ्रूट के साथ 2 उबले अंडे।
दोपहर का भोजन: आधा रोस्टेड चिकन ब्रेस्ट, आधा ग्रेपफ्रूट और ब्रोकोली।

रात का खाना: एक सर्विंग फिश और आधा ग्रेपफ्रूट। 8 बजे तक भोजन कर लें।

एग डाइट प्लान के नुकसान
हालांकि एग डाइट प्लान काफी प्रभावी है लेकिन साथ ही इसके कुछ नुकसान भी हैं। कुछ दिनों तक केवल अंडों का सेवन करने से कब्ज और सांसों से गंध आने की समस्या भी हो सकती है। एक ही तरह का आहार खाना आपके लिए काफी उबाऊ हो सकता है और हो सकता है कि आप इसे जारी ना रखें। इसके अलावा इस डाइट के बंद करने के बाद वजन बढ़ने की संभावनाएं होती हैं। इतना ही नहीं, यदि आप अपने आहार में पर्याप्त सब्जियां और फलों को नहीं शामिल नहीं करते हैं, तो पोषण की कमी हो सकती है। [ये भी पढें: मिलिट्री डाइट प्लान की मदद से एक हफ्ते में घटाएं 4 किलो वजन]

उपयोग की शर्तें

" यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "