गर्भावस्‍था के हफ्ते

Thoughts Pregnant Moms Have in the First Trimester

पहली तिमाही में गर्भवती महिलाओं के दिमाग में क्या ख्याल आते हैं

एक गर्भवती महिला के दिमाग में पहली तिमाही के दौरान बहुत सी बातें आते रहती हैं और वो अपने प्रेग्नेंसी और आने वाले बच्चे के बारे में बहुत सी बातें सोचने लगती हैं। ऐसा उनके शरीर के हॉर्मोन्स में बदलाव आने की वजह से भी होता है।

40th week of pregnancy know more about the body changes

प्रेग्नेंसी का चालीसवां सप्ताह

चालीसवें सप्ताह के दौरान गर्भ के अंदर बच्चे का प्रेशर और उसकी गतिविधियां बढ़ जाती है जिसके कारण मां के गर्भ में ज़्यादा दबाव पड़ता है और पेट में दर्द भी बढ़ने लगता है।

39th week of pregnancy: Body changes and symptoms

प्रेग्नेंसी का उन्तालीसवां सप्ताह

उन्तालीसवें हफ्ते में प्रेग्नेंट महिला को बेचैनी सी महसूस होने लगती है और बैठने-उठने में भी तकलीफ होने लगती है। साथ ही इस हफ्ते तक बच्चे का पूर्ण रुप से विकास हो चुका होता है।

38th week of pregnancy know what happens during this time

प्रेग्नेंसी का अड़तीसवां सप्ताह

अड़तीसवें हफ्ते तक मां के शरीर में अंदरूनी और बाहरी बदलाव होने लगते हैं। इस दौरान महिलाओं के योनि से भी निरंतर स्राव होता रहता है जो स्वाभाविक होता है।

37th week of pregnancy body changes and symptoms

प्रेग्नेंसी का सैंतीसवां सप्ताह

इस हफ्ते में मां को श्रोणि(पेल्विस) की हड्डियों पर ज्यादा दबाव महसूस होता हैं, क्योंकि गर्भ में पल रहा शिशु श्रोणि की हड्डियों को तकिये की तरह इस्तेमाल करता है।

35th week of pregnancy know what to expect during this time

प्रेग्नेंसी का पैंतीसवां हफ्ता

प्रसव का समय नजदीक होने की वजह से आपको केगल एक्सरसाइज करनी चाहिए। यह एक्सरसाइज पेल्विक मांसपेशियों को मजबूत करने और बढ़े हुए दबाव के लिए तैयार करने में मदद करती है।

33rd week of pregnancy: Body changes and symptoms

प्रेग्नेंसी का तैंतीसवां सप्ताह

प्रेग्नेंसी की अंतिम तिमाही में आ जाने के बाद डॉक्टर को जरुर दिखाएं ताकि अगर आपको कोई परेशानी हो तो उसे ठीक किया जा सके और प्रसव के समय कोई दिक्कत ना आए।

32nd week of pregnancy: Know what to expect during this time

प्रेग्नेंसी का बत्तीसवां सप्ताह

प्रेग्नेंसी के बत्तीसवें सप्ताह में आपको अपना ज्यादा ध्यान रखना चाहिए क्योंकि इस समय तक आप प्रसव के लिए तैयार हो गई होती है। आइए जानते हैं क्या करना सही है और क्या गलत।