गर्भावस्था के दौरान क्यों होते हैं मुंहासे और कैसे पाएं इनसे निजात

causes and natural treatment of acne during pregnancy

प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासे होना आम होता है। हर 2 में से 1 महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासों की परेशानी होती है। कुछ महिलाओं को कम मुहांसे होते हैं तो कुछ को बहुत ज्यादा होते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासे आपके शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण होते हैं। हार्मोंस के ज्यादा कम होने की वजह से मुंहासे फट जाते हैं यह खासकर तब होता है जब आपको मुंहासों की परेशानी प्रेग्नेंट होने से पहले हो। तो आइए आपको प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले मुंहासों के कारण और उसे ठीक करने के प्राकृतिक उपाय बताते हैं। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान महसूस होने वाले लक्षणों को इन प्राकृतिक उपायों से करें दूर]

प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले मुंहासे के कारण:

1-हार्मोंस असंतुलित होना: प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासे होने का सामान्य कारण हार्मोंस के लेवल में बदलाव होना होता है। प्रेग्नेंसी के पहले तिमाही के दौरान आपके हार्मोंस के लेवल में सबसे ज्यादा बदलाव होता है। प्रोजेस्टेरोन मुख्य हार्मोन है जो आपकी ग्रन्थि से ज्यादा मात्रा में नेचुरल ऑइल या सेबम का उत्पादन कराता है जिसकी वजह से मुंहासे होते हैं। आपकी ग्रन्थि से उत्पादन होने वाले ज्यादा मात्रा में तेल आपकी त्वचा के छिद्रों को ब्लॉक कर देते हैं। जिसका परिणाम यह होता है कि आपके छिद्रों में बैक्टीरिया हो जाते हैं और मुंहासों की समस्या उत्पन्न हो जाती हैं।

2-फ्लड रिटेंशन: जब आप प्रेग्नेंट होती हैं तो आपके शरीर में तरल पदार्थों की मात्रा बनी रहती है। शरीर में तरल पदार्थों की मात्रा बनाएं रखने की वजह से आपके शरीर में विषाक्त पदार्थ रह जाते हैं जिसकी वजह से मुंहासे हो जाते हैं। [ये भी पढ़ें: क्या है फॉल्स प्रेग्नेंसी? जानें इसके कारण और लक्षण]

3-सामान्य की तुलना में ज्यादा मुंहासे होना: अगर आपकी त्वचा पर बहुत जल्दी मुंहासे हो जाते हैं तो प्रेग्नेंसी के दौरान आपके मुंहासे होने का खतरा बढ़ जाता है। अगर आपको प्रेग्नेंट होने से पहले मुंहासे होते हैं तो आपको प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासे जरुर होते हैं।

प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले मुंहासे दूर करने के प्राकृतिक उपाय:

1-अपनी त्वचा को साफ रखें: प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासों से बचने के लिए अपनी त्वचा को हमेशा साफ रखें। इसके लिए अपने चेहरे को दिन में दो बार धोएं। एक बार जब आप सुबह सो कर उठें और एक बार रात को सोने से पहले, अपने चेहरे को अच्छी तरह धोएं ताकि उससे गंदगी निकल जाए और उसके बाद आराम से सुखाएं। त्वचा पर कुछ भी रब ना करें।

2-मुंहासों को ना दबाएं: बहुत सी महिलाएं चेहरे को धोते समय मुंहासों को स्क्रब करती हैं जिसकी वजह से मुंहासों की स्थिति बदतर हो जाती है। प्रेग्नेंसी के दौरान आपकी त्वचा ज्यादा संवेदनशील हो जाती है जिसे थोड़ा सा भी रब करने से घाव हो जाते है। इसलिए इन दौरान मुंहासों को ना दबाएं।

3-अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज रखें: अगर आप अपनी त्वचा पर मुंहासे नहीं चाहती हैं तो त्वचा को मॉइस्चराइज रखें। मुंहासों से बचने के लिए उन मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें जिनमे तेल ना हो। यह मुंहासों से होने वाली जलन को कम करता है।

4-सूरज की रोशनी में ना जाएं: सूरज की रोशनी में ज्यादा देर तक रहने से ना केवल मुंहासे होते हैं बल्कि त्वचा को भी नुकसान पहुंचता है। इसलिए जब भी धूप में जाएं तो सनस्क्रीम का इस्तेमाल जरुर करें। लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि सनस्क्रीम से आपको मुंहासे ना हो।

5-शरीर में पानी की कमी ना होने दें: मुंहासे दूर करने का सबसे आसान इलाज बहुत सारा पानी पीना होता है। प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए। पानी की कमी से त्वचा रुखी हो जाती है। आप इसके साथ ही ताजे फलों के जूस का सेवन भी कर सकती हैं। [ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले डिहाइड्रेशन का कारण, लक्षण और उपचार]

    उपयोग की शर्तें

    " यहाँ दी गयी जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । यहाँ सभी सामग्री केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि यहाँ दिए गए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है। अगर यहाँ दिए गए किसी उपाय के इस्तेमाल से आपको कोई स्वास्थ्य हानि या किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो lifealth.com की कोई भी नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती है। "